RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

CRPF ग्रुप सेंटर के जवान ने वैक्सीन लगवाने से किया मना, फिर हुए राजी, शुरू हुआ कोरोना वैक्सिनेशन

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913

उत्तर प्रदेश के अमेठी जनपद के त्रिसुंडी स्थित केंद्रीय रिज़र्व पुलिस के ग्रुप सेंटर पर तैनात जवानों और अधिकारियों ने कोरोना वैक्सीन लगवाने से मना कर दिया. हालांकि बाद में काफी मशक्कत के बाद जवान और अधिकारी कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए तैयार हुए और बल स्वास्थ्य विभाग की टीम ने टीकाकरण शुरू किया.

इसे भी पढ़े : चीन का दावा- LAC से पीछे हट रहे हैं दोनों देशों के सैनिक, भारत की तरफ से पुष्टि नहीं

इससे पहले केंद्रीय रिज़र्व पुलिसग्रुप सेंटर गई स्वास्थ्य विभाग की टीम को अंदर जाने की अनुमति नहीं मिली थी. लेकिन, स्वास्थ्य विभाग की टीम समझाने की कोशिश करती रही. इसके बाद भी जवान व अधिकारी वैक्सीन लगवाने से इनकार करते  रहे. सीआरपीएफ के DIG कोवैक्सीन की जगह कोविशील्ड वैक्सीन लगाने की मांग कर रहे थे.

गौरतलब है कि पहले और दूसरे चरण में स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना वैक्सीन लगाने के बाद आज से उत्तर प्रदेश में फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगाया जा रहा है. प्रदेश भर में 2 लाख फ्रंटलाइन वर्कर्स के टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है. 

इसे भी पढ़े : सामूहिक बलात्कार के सनसनीखेज प्रकरण में आरोपीगण को 20 वर्ष का सश्रम कारावास

राजधानी लखनऊ में 98 बूथों पर 12000 लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य है. आज कोविशील्ड और कोवैक्सीन का टीकाकरण में इस्तेमाल रहा है, लेकिन अमेठी में सीआरपीएफ के जवानों और अधिकारियों कोवैक्सीन लगवाने से मना कर दिया था. उनकी मांग है कि कोविशील्ड वैक्‍सीन लगाई जाए.

Leave a Reply

%d bloggers like this: