अमेरिकी रक्षा विभाग ने तैयार की दुनिया की सबसे बड़ी गोपनीय सेना: रिपोर्ट


अमेरिका का झंडा. (फाइल फोटो)

अमेरिकी मैगजीन न्यूज वीक ने अपनी ताजा रिपोर्ट में खुलासा किया है कि पेंटागन (Pentagon) ने ऐसे हमलों को अंजाम दिया जिसकी खुद अमेरिका ने भी दुनिया में आलोचना की. न्यूज वीक की ये रिपोर्ट चर्चाओं के केंद्र में आ गई है.

नई दिल्ली. बीते दस सालों के भीतर अमेरिका (America) ने दुनिया की सबसे बड़ी गोपनीय सेना (Clandestine Force) तैयार की है जिसने कई जघन्य ऑपरेशन्स किए हैं. अमेरिकी मैगजीन न्यूज वीक ने अपनी ताजा रिपोर्ट में खुलासा किया है कि पेंटागन (Pentagon) ने ऐसे हमलों को अंजाम दिया जिसकी खुद अमेरिका ने भी दुनिया में आलोचना की. न्यूज वीक की ये रिपोर्ट चर्चाओं के केंद्र में आ गई है.

‘इनसाइड द मिलिट्रीज सिक्रेट अंडरकवर आर्मी’ नाम की इस एक्सक्लूसिव रिपोर्ट में कहा गया है- करीब दो साल की तहकीकात के बाद हमने पाया है कि करीब 60 हजार लोग इस गोपनीय सेना का हिस्सा हैं. इनमें से ज्यादातर लोग छद्म नामों का इस्तेमाल करते हैं और बेहद लो प्रोफाइल रह कर काम करते हैं. ये सभी एक बड़े अभियान का हिस्सा हैं जिसका नाम है सिग्नेचर रिडक्शन.

‘वो दरवाजा खोला है जिससे अनियंत्रित गतिविधियां दिखाई दे रही हैं’

इस गोपनीय सेना के लोग जासूसी, सोशल मीडिया में भ्रम फैलाने सहित कई ऐसी गतिविधियों में संलिप्त हैं जो आम तौर पर सार्वजनिक नहीं है. रिपोर्ट में कहा गया है कि हमने अमेरिकी मिलिट्री और रक्षा विभाग के बारे में वो दरवाजा खोला है जिससे अनियंत्रित गतिविधियां दिखाई दे रही हैं.‘ये अमेरिकी नियमों के खिलाफ, जिनेवा कन्वेंशन के खिलाफ’

रिपोर्ट में कहा गया है कि ऐसी किसी फोर्स को लेकर सदन में कभी चर्चा नहीं हुई लेकिन मिलिट्री ने एक इतनी बड़ी गोपनीय सेना तैयार कर दी. ये अमेरिकी नियमों के खिलाफ है. जिनेवा कन्वेंशन के खिलाफ है. इसके अलावा ये मिलिट्री के कोड ऑफ कन्डक्ट के भी पूरी तरह खिलाफ है.









Source link

Leave a Reply

COVID-19 Tracker
%d bloggers like this: