RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

शिक्षक कॉलोनी मैं रहवासी कॉलोनाइजर की मनमानी से परेशान

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913

उज्जैन। बड़नगर संगम चौराहा स्थित शिक्षक कॉलोनी जो कि वर्ष 1987 में शिक्षक कॉलोनी के नाम से कॉलोनाइजर ने अपनी निजी भूमि पर कॉलोनी काटी उसमें कब्रिस्तान के पास कॉलोनी के अंतिम बाउंड्री लगभग 30 फीट रास्ता आने जाने के लिए कॉलोनाइजर द्वारा छोड़ा गया था!

लेकिन कॉलोनी में रहने वाले निवासियों का आरोप है कि उक्त 30 फीट जमीन में से 15 फीट कॉलोनाइजर के पोते  द्वारा बेचने का आरोप शिक्षक कॉलोनी के रहवासियों द्वारा कॉलोनाइजर पर लगाया जा रहा है साथ ही रह वासियों द्वारा बताया गया कि एक रजिस्ट्री भी कर दी गई है!

इसे भी पढ़े : ट्विटर से विवाद के बीच अब Koo ऐप को संपर्क का मुख्य जरिया बनाने की तैयारी में सरकार

वहीं रह वासियों द्वारा बताया गया कि कई बार प्रशासन से इसकी शिकायत भी उनके द्वारा की गई रहवासियों ने बताया कि एसडीएम से लगाकर कलेक्टर तक उन्होंने इसकी शिकायत की है मगर अभी तक शिक्षक कॉलोनी के रहवासियों की शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है!

प्रशासन द्वारा ऐसा आरोप शिक्षक कॉलोनी के रहवासियों द्वारा प्रशासन पर लगाए गए जबकि अगर 15 फीट जगह पर कॉलोनाइजर द्वारा कब्जा किया जाता है!

इसे भी पढ़े : J&K में IED ब्लास्ट, CRPF वाहन को बनाना चाहते थे निशाना, कोई हताहत नहीं

तो रहवासियों का कहना है कि हमे आने जाने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ेगा साथी उक्त 15 फीट जमीन पर कॉलोनाइजर द्वारा अपनी मनमानी करते हुए सीसी रोड का निर्माण भी नगरपालिका को नहीं करने दिया जा रहा है अब देखने वाली बात यह होगी कि शासन-प्रशासन इस और क्या कार्रवाई करता है और इन कॉलोनी वासियों को कब तक न्याय मिल पाता है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: