RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

श्रीलंका ने भारत को दिया बड़ा झटका, बड़ी रणनीतिक पोर्ट डील की रद्द

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913

श्रीलंका ने भारत को रणनीतिक डील के मोर्चे पर बड़ा झटका दे दिया है. दरअसल, भारत और जापान के साथ मिलकर श्रीलंका एक बड़ा पोर्ट टर्मिनल बनाने के समझौते पर हस्ताक्षर किया था लेकिन विपक्ष के देश में 1 सप्ताह से चल रहे विरोध प्रदर्शन से आजिज आकर प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे डील को रद्द करने की घोषणा कर दी है!

हिंद महासागर में अपनी मजबूत उपस्थिति दर्ज कराने की कोशिश कर रहे भारत के लिए यह झटका माना जा रहा है!

इसे भी पढ़े : कलयुगी पिता ने अपने ही पुत्री को बनाया हवस का शिकार।

श्रीलंका ने दोनों देशों के साथ समझौते के तहत रणनीतिक दृष्टि से महत्वपूर्ण ईस्ट कंटेनर टर्मिनल बनाने का फैसला किया था. इस डील में टर्मिनल का 49 फीसदी हिस्सा भारत और जापान के पास होता!

श्रीलंका पोर्ट अथॉरिटी के पास इसमें 51 फीसदी का हिस्सा होता है. अब श्रीलंका ने कहा है कि वह वेस्ट कंटेनर टर्मिनल का निर्माण भारत और जापान के साथ मिलकर करेगा!

भारत और जापान के साथ इस समझौते का कोलंबो पोर्ट ट्रेड यूनियंस विरोध कर रहे थे. यूनियंस की मांग थी कि ECT पर पूरी तरह से श्रीलंका पोर्ट का अधिकार हो. यानी 100 फीसदी हिस्सा उसके जिम्मे हो!

इसे भी पढ़े : सार्वजनिक स्थान पर कुत्ते को सोच कराना महंगा पड़ा मालिक को।

23 ट्रेड यूनियंस ने पोर्ट डील का विरोध किया था. यूनियंस का आरोप था कि भारत की अडाणी समूह के साथ ECT समझौता सही नहीं है. इस समझौते का विरोध कर रहे ज्यादातर यूनियंस सत्तारूढ़ श्रीलंका पीपुल्स पार्टी से जुड़े हुए हैं. उनके विरोध के बाद सरकार इस डील पर आगे नहीं बढ़ रही है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: