Airport: पत्‍नी की हरसत और ₹60 लाख के बीच मेकअप बना मुसीबत, दंपति हुआ अरेस्‍ट


IGI Airport Police: एक शख्‍स अपनी पत्‍नी की हसरत को पूरी करने के चक्‍कर में रुपयों को पानी की तरह बहाता चला गया. करीब 60 लाख रुपए खर्च करने के बाद जब हरसत पूरी होने का मौका आया तो मेकअप ने बड़ी मुसीबत खड़ी कर दी. हालात यहां तक पहुंच गए कि पति और पत्‍नी को पहले लंबी पूछताछ का सामना करना पड़ा और फिर दोनों को कुछ समयांतराल में गिरफ्तार कर लिया गया. जी हां, यह मामला दिल्‍ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट का है.

दरअसल, लखनऊ के मोती नगर में रहने वाली 22 वर्षीय अर्चना कौर ने जिद पकड़ ली थी कि उसे किसी भी कीमत में लखनऊ में नहीं रहना है. जिद सिर्फ लखनऊ में न रहने तक सीमित होती, तब भी उसके पति गुरुसेवक के लिए ठीक होता, लेकिन जिद की अगली शर्त यह थी कि उसे भारत के किसी भी गांव, कस्‍बे और शहर में नहीं रहना है. अर्चना कौर की हरसत कनाडा में बसने की थी और उसने अपनी यह हसरत अब खुल कर अपने पति गुरुसेवक को बता दी थी.

Advertisment 
--------------------------------------------------------------------------
क्या आप भी फोन कॉल पर ऑर्डर लेते हुए थक चुके हैं? अपने व्यापार को मैन्युअली संभालते हुए थक चुके हैं? आज के महंगाई भरे समय में आपको सस्ता स्टाफ और हेल्पर नहीं मिल रहा है। तो चिंता किस बात की?

अब आपके लिए आया है एक ऐसा समाधान जो आपके व्यापार को आसान बना सकता है।

समाधान:
अब आपके साथ एस डी एड्स एजेंसी जुडी है, जहाँ आप नवीनतम तकनीक के साथ एक साथ में काम कर सकते हैं। जैसे कि ऑनलाइन ऑर्डर प्राप्त करना, ऑनलाइन भुगतान प्राप्त करना, ऑनलाइन बिल जनरेट करना, ऑनलाइन लेबल जनरेट करना, ऑनलाइन इन्वेंट्री प्रबंधन करना, ऑनलाइन सीधे आपके नए आगमनों को सोशल मीडिया पर ऑटो पोस्ट करना, ऑनलाइन ही आपकी पूरी ब्रांडिंग करना। आपके स्टोर को ऑनलाइन करने से आपके गैर मौजूदगी के समय में भी लोग आपको आर्डर कर पाएंगे। आपका व्यापार आपके सोते समय भी रॉकेट की तरह दौड़ेगा। गूगल पर ब्रांडिंग मिलेगी, सोशल मीडिया पर ब्रांडिंग मिलेगी, और भी बहुत सारे फायदे मिलेंगे आपको! 🚀

ई-कॉमर्स प्लान:
मूल्य: 40,000 रुपये
50% छूट: 20,000 रुपये
ईएमआई भी उपलब्ध है
डाउन पेमेंट: 5,000 रुपये
10 ईएमआई में 1,500 रुपये
साथ ही विशेष गिफ्ट कूपन

अब आज ही बुकिंग कीजिए और न्यूज़ पोर्टल्स में विज्ञापन प्लेस करने के लिए आपको 10,000 रुपये का पूरा गिफ्ट कूपन दिया जा रहा है! इसे साल भर में हर महीने 10,000 रुपये के विज्ञापन की बुकिंग के लिए 10 महीने तक उपयोग कर सकते हैं।

अब तकनीकी की मदद से अपने व्यापार को नई ऊँचाइयों तक ले जाइए और अपने व्यापार को बढ़ावा दें! 🌐
अभी संपर्क करें - 📲8109913008 कॉल / व्हाट्सप्प और कॉल ☎️ 03369029420


 

यह भी पढ़ें: एक्‍स्‍ट्रा अदाएं और इशारे पड़ गए भारी, हुई तलाशी तो… फटी रह गईं सबकी आंखें, 3 युवतियों सहित 4 अरेस्‍ट… बैगेज बेल्‍ट पर अपने सामान का इंतजार कर रही तीन युवतियां और एक युवक इशारों से बातें करते हुए टर्मिनल के एग्जिट गेट पर अपनी निगाह बनाए हुए थे. इनकी हरकतों को भांपने के बाद कस्‍टम अफसरों ने इनको जांच के लिए रोका और फिर… पूरी कहानी जानने के लिए क्लिक करें.

अपनी पत्‍नी की हरसत जानने के बाद गुरुसेवक के सपनों में भी अब कनाडा आने लगा था. कल तक पत्‍नी की जिद अब गुरुसेवक की भी हरसत बन चुकी थी. अब समस्‍या यह थी कि कनाडा में बसा कैसे जाए. तमाम कोशिशों के बावजूद गुरुसेवक और अर्चना को कनाडा का वीजा नहीं मिला, जिसके बाद उन्‍होंने गैरकानूनी तरीके से कनाडा जाने का फैसला कर लिया. इसी बीच, गुरुसेवक और अर्चना की मुलाकात पीलीभीत के जगजीत सिंह उर्फ जग्‍गी से हुई.

आईजीआई एयरपोर्ट की डीसीपी उषा रंगनानी ने बताया कि जग्‍गी ने 60 लाख रुपए के एवज में दो ऐेसे पासपोर्ट उपलब्‍ध करा दिए, जिसमें कनाडा का वीजा लगा हुआ था. इसमें पहला पासपोर्ट 67 वर्षीय हरविंदर सिंह और दूसरा पासपोर्ट हरजीत कौर के नाम पर जारी हुए था. लेकिन समस्‍या यहां खत्‍म नहीं हुई थी. पासपोर्ट में हरविंदर सिंह की उम्र 67 थी, जबकि गुरुसेवक की उम्र कुल जमा 24 साल ही थी. अब 43 साल के इस अंतर को कैसे पाटा जाए.

यह भी पढ़ें: सिर्फ 10 सालों में बदल गई डायल की नीयत, बूढ़ी इमारतों पर हुआ अपग्रेडेशन का मेकअप, अब नतीजा सबके सामने… इंदिरा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट टर्मिनल वन डी की छत ढह जाने के बाद अतीत में दफन हो चुकी कई बातें सामने आना शुरू हो चुकी है. इन बातों में एक बात दिल्‍ली एयरपोर्ट के मास्‍टर प्‍लान 2006 की भी है. यह वही मास्‍टर प्‍लान है, जिसको दिखाकर दिल्‍ली एयरपोर्ट के सवर्णिम भविष्‍य के सपने दिखाए गए थे. समय के साथ, डायल का मन बदलता गया और इस प्‍लान से एक-एक कर कई महत्‍वपूर्ण चीजें गायब होती गई. डायल का असल मकसद 2017 में मास्‍टर प्‍लान 2016 के रूप में सामने आया और इस मास्‍टर प्‍लान को देखकर सभी चौंक गए. 2006 के मास्‍टर प्‍लान में क्‍या था और 201 के मास्‍टर प्‍लान में क्‍या हो गया, जानने के लिए करें क्लिक.

उन्‍होंने बताया कि उम्र के इस अंतर को पाटने के लिए गुरुसेवक ने दिल्‍ली के एक मेकअप आर्टिस्‍ट को खोज निकाला. मेकअप आर्टिस्‍ट भी जबरदस्‍त था, उसने भी गुरुसेवक को 67 साल का बना दिया. इसके बाद, अर्चना और गुरुसेवक एयरपोर्ट पहुंच गए. यहां पर दोनों ने एक दूसरे से थोड़ी बना ली थी. एयरपोर्ट पर दाखिल होते समय सीआईएसएफ इंटेलिजेंस की नजर गुरुसेवक पर टिक गई. बातचीत के दौरान, गुरुसेवक की आवाज और चेहरे की स्किन ने सीआईएसएफ के शक को पुख्‍ता कर दिया.

इसी बीच, गुरुसेवक को सीआईएसएफ की गिरफ्त में फंसता देख अर्चना एयरपोर्ट से भाग खड़ी हुई. कुछ देर की पूछताछ के बाद सीआईएसएफ ने गुरुसेवक को आईजीआई एयरपोर्ट पुलिस को हवाले कर दिया. वहीं पुलिस की पूछताछ के दौरान, जब अर्चना का नाम सामने आया तो उसे भी एयरपोर्ट के समीप से गिरफ्तार कर लिया गया. पूछताछ के दौरान, गुरुसेवक और अर्चना ने जो खुलासे किए उसे जान एक बार एयरपोर्ट पुलिस भी हैरान रह गई.

Tags: Airport Diaries, Airport Security, CISF, Delhi airport, Delhi police, IGI airport



Source link


Discover more from सच्चा दोस्त न्यूज़

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours

Leave a Reply