स्पूतनिक-V वैक्सीन. (कॉन्सेप्ट इमेज)


स्पूतनिक-V वैक्सीन. (कॉन्सेप्ट इमेज)

वैश्विक समाचार एजेंसी एपी की रिपोर्ट के मुताबिक बीते कुछ हफ्तों के दौरान रूस (Russia) ने कई चीनी कंपनियों (Chinese Companies) के साथ 2.6 करोड़ डोज वैक्सीन उत्पादन का करार किया है. कहा जा रहा है कि इस निर्णय के साथ ही रूस अब तेजी से लैटिन अमेरिका, मध्य-पूर्व, अफ्रीका में ऑर्डर को पूरा कर पाएगा.

नई दिल्ली. भारत में कोरोना वायरस की भयावह दूसरी लहर (2nd Covid Wave) के बीच रूस ने अपनी वैक्सीन का प्रोडक्शन (Vaccine Production) बढ़ाने के लिए चीन का रुख किया है. वैश्विक समाचार एजेंसी एपी की रिपोर्ट के मुताबिक बीते कुछ हफ्तों के दौरान रूस ने कई चीनी कंपनियों के साथ 2.6 करोड़ डोज वैक्सीन उत्पादन का करार किया है. कहा जा रहा है कि इस निर्णय के साथ ही रूस अब तेजी से लैटिन अमेरिका, मध्य-पूर्व, अफ्रीका में ऑर्डर को पूरा कर पाएगा. बता दें अगस्त 2020 में सबसे पहले रूस ने कोरोना वैक्सीन बनाने की घोषणा कर दी थी. इस वैक्सीन का नाम स्पूतनिक-V रखा गया. शुरुआत में इसके ट्रायल डेटा को लेकर वैश्विक स्तर पर चिंता जाहिर की गई थी. लेकिन कुछ समय पहले ब्रिटिश मेडिकल जर्नल लैंसेट ने इस वैक्सीन के डेटा पर स्टडी पब्लिश की. स्टडी में बताया गया कि इस वैक्सीन का एफिकेसी रेट 91 प्रतिशत है और बड़े स्तर पर इस्तेमाल के दौरान सामने आया है कि वैक्सीन पूरी तरह सेफ है. भारत में इमरजेंसी यूज में वैक्सीन बता दें कि भारत में कोरोना वैक्सीन की कमी के बीच रूस की स्पूतनिक वैक्सीन बीते शनिवार भारत पहुंच गई है. स्पुतनिक वैक्सीन के भारत आने से तीसरे चरण के वैक्सीनेशन में तेजी देखने को मिलेगी. भारत में 18 से 44 साल के लोगों के लिए तीसरे चरण का वैक्सीनेशन 1 मई से शुरू हो गया है. तीसरे चरण के लिए भारी संख्या में लोगों ने अपना पंजीकरण करवाया है.स्पूतनिक-वी वैक्सीन को गमालया नेशनल रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ एपिडेमियोलॉजी एंड माइक्रोबायोलॉजी द्वारा विकसित किया गया है. स्पूतनिक वी (Sputnik V) दो खुराक का टीका है. पहली खुराक लेने के बाद 21वें दिन दूसरी खुराक लेनी होगी.

टीका लेने के 28वें और 42वें दिन के बीच शरीर में कोरोना वायरस के खिलाफ प्रतिरोधक क्षमता विकसित हो जाएगी.









Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

COVID-19 Tracker