किरोड़ी लाल मीणा ने क्यों दिया कृषि मंत्री के पद से इस्तीफा? हार का गम या संगठन से नाराजगी


जयपुर। भाजपा के दिग्गज नेता किरोड़ी लाल मीणा (Kirori Lal Meena) ने राजस्थान सरकार में कृषि मंत्री के पद से इस्तीफा (Resignation from the post of Agriculture Minister) दे दिया है। उनके इस कदम के पीछे तरह-तरह के कारण बताए जा रहे हैं। कोई कह रहा है कि उन्होंने हार की वजह से इस्तीफा दिया है तो किसी का कहना है कि वह संगठन से नाराज चल रहे थे इसलिए ऐसा कदम उठाया। लेकिन, खुद किरोड़ी लाल मीणा ने अपने इस बड़े फैसले की असल वजह बताई है।

Advertisment 
--------------------------------------------------------------------------
क्या आप भी फोन कॉल पर ऑर्डर लेते हुए थक चुके हैं? अपने व्यापार को मैन्युअली संभालते हुए थक चुके हैं? आज के महंगाई भरे समय में आपको सस्ता स्टाफ और हेल्पर नहीं मिल रहा है। तो चिंता किस बात की?

अब आपके लिए आया है एक ऐसा समाधान जो आपके व्यापार को आसान बना सकता है।

समाधान:
अब आपके साथ एस डी एड्स एजेंसी जुडी है, जहाँ आप नवीनतम तकनीक के साथ एक साथ में काम कर सकते हैं। जैसे कि ऑनलाइन ऑर्डर प्राप्त करना, ऑनलाइन भुगतान प्राप्त करना, ऑनलाइन बिल जनरेट करना, ऑनलाइन लेबल जनरेट करना, ऑनलाइन इन्वेंट्री प्रबंधन करना, ऑनलाइन सीधे आपके नए आगमनों को सोशल मीडिया पर ऑटो पोस्ट करना, ऑनलाइन ही आपकी पूरी ब्रांडिंग करना। आपके स्टोर को ऑनलाइन करने से आपके गैर मौजूदगी के समय में भी लोग आपको आर्डर कर पाएंगे। आपका व्यापार आपके सोते समय भी रॉकेट की तरह दौड़ेगा। गूगल पर ब्रांडिंग मिलेगी, सोशल मीडिया पर ब्रांडिंग मिलेगी, और भी बहुत सारे फायदे मिलेंगे आपको! 🚀

ई-कॉमर्स प्लान:
मूल्य: 40,000 रुपये
50% छूट: 20,000 रुपये
ईएमआई भी उपलब्ध है
डाउन पेमेंट: 5,000 रुपये
10 ईएमआई में 1,500 रुपये
साथ ही विशेष गिफ्ट कूपन

अब आज ही बुकिंग कीजिए और न्यूज़ पोर्टल्स में विज्ञापन प्लेस करने के लिए आपको 10,000 रुपये का पूरा गिफ्ट कूपन दिया जा रहा है! इसे साल भर में हर महीने 10,000 रुपये के विज्ञापन की बुकिंग के लिए 10 महीने तक उपयोग कर सकते हैं।

अब तकनीकी की मदद से अपने व्यापार को नई ऊँचाइयों तक ले जाइए और अपने व्यापार को बढ़ावा दें! 🌐
अभी संपर्क करें - 📲8109913008 कॉल / व्हाट्सप्प और कॉल ☎️ 03369029420


 

मुख्यमंत्री भजनलाल सरकार से इस्तीफा देने के बाद मीणा ने कहा कि कहा कि मैं 30-35 साल से 10-12 जिलों में काम कर रहा था। यहां मेरी पकड़ भी है। जनता के लिए रात-दिन काम भी करते है। एक बार तो इसी क्षेत्र से निर्दलीय सांसद भी बना लेकिन इसी क्षेत्र से अपनी पार्टी के प्रत्याशी को नहीं जिता पाया। इससे मन खट्टा हो गया। मैंने पहले भी कहा था कि अगर सवाई माधोपुर, दौसा और करौली में भाजपा प्रत्याशी को नहीं जिता सका तो पद से इस्तीफा दे दूंगा और यही मैंने किया।

मीणा ने कहा कि मेरी संगठन से कोई नाराजगी नहीं है। मैं लोकसभा चुनाव में अपने ही क्षेत्र में प्रत्याशियों की हार से टूट गया था, बिखर गया था। मैंने 5 तारीख को ही इस्तीफा दे दिया था। सत्ता या संगठन किसी से मेरी नाराजगी नहीं है। लोकसभा चुनाव में मैंने अपने क्षेत्र में पार्टी की जीत को लेकर भरोसा दिया था। लेकिन, पार्टी प्रत्याशी जीत नहीं पाए। ऐसे में अपने वचन के अनुसार आज मैंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने आगे कहा कि अब बिना बंदिश के काम करूंगा। मेरे काम का तरीका तो वही रहेगा।

इस सवाल पर कि मंत्री पद पर रहते हुए बेहतर काम करवा सकते थे, किरोड़ी लाल मीणा बोले कि बिना मंत्री रहे मैंने नीट की परीक्षा देने वाले 26 लाख अभ्यर्थियों को इंसाफ दिलाया। मैं सत्ता के बाहर रहकर भी काम कर सकता हूं। जयप्रकाश नारायण, महात्मा गांधी, अन्ना हजारे यह सब इसके उदाहरण है। अब सरकार से बाहर रहकर जनहित के मामले मुख्यमंत्री और सरकार तक पहुंचाऊंगा। ठीक उसी तरह जैसे जल जीवन मिशन और अलवर की जमीन का मुद्दा मुख्य संज्ञान में लेकर आया था और जांच कराई थी।

Share:





Source link


Discover more from सच्चा दोस्त न्यूज़

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours

Leave a Reply