RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

आत्महत्या रोकथाम विषय पर गोष्ठी का हुआ आयोजन

आत्महत्या रोकथाम पर जागरूकता कार्यक्रम का हुआ आयोजन इटियाथोक गोंडा- श्रीउमा कंप्यूटर इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी इटियाथोक, गोंडा में विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस के उपलक्ष्य में एक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया
इंस्टिट्यूट के प्रबंधक राकेश तिवारी ने बताया कि इस दिन की शुरुआत इंटरनेशनल एसोसिएशन फॉर सुसाइड प्रिवेंशन (IASP) ने 2003 में की थी।
आत्महत्या की वजह से हर साल दुनियाभर में आठ लाख से ज्यादा लोग अपनी जान गंवाते देते हैं। आत्महत्या करने वालों में (किशोर और युवा) ज्यादातर 15-29 साल के लोग शामिल हैं।
राकेश तिवारी ने बताया कि नकारात्मक विचार वाले, निराश एवं दुखी रहने वाले, खुद की परवाह न करने वाले, बार बार मरने का ख्याल लाने वाले आदि लक्षणों वाले आत्महत्या के शिकार अधिक होते हैं।

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913

आत्महत्या की रोकथाम के लिए किशोर और युवाओं को जागरूक करना, तनाव प्रबंधन का तरीका सिखाना, परिवार को ज्यादा समय देना, दवा एवं काउंसलिंग का सहारा लेना आदि अति आवश्यक है
जिससे आत्महत्या पर रोक लगायी जा सके। कार्यक्रम में पुरषोत्तम तिवारी, रोली मिश्रा, राजेश शुक्ला एवं सभी छात्र- छात्रा उपस्थिति रहे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: