Langat Singh College Foundation Day: 125वें स्थापना दिवस पर भव्य समारोह का आयोजन



Langat Singh College Foundation Day: मुजफ्फरपुर के लंगट सिंह कॉलेज के 125 वें स्थापना दिवस के मौके पर कॉलेज सभागार में भव्य समारोह का आयोजन किया गया. इसमें शिरकत करने पहुंचे बिहार के उप मुख्यमंत्री विजय कुमार सिन्हा ने बतौर मुख्य अतिथि कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन किया. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू हो चुकी है. वर्तमान समय तकनीक का है. ऐसे में प्रत्येक शैक्षणिक संस्थान को तकनीक के अनुसार अपडेट होना पड़ेगा. 21वीं सदी में विकसित भारत का सपना तभी साकार होगा जब संस्थान अपडेट होंगे.

नकारात्मक शक्तियों को बच्चों के मस्तिष्क से दूर करने की जरूरत

डिप्टी सीएम ने कहा कि शैक्षणिक संस्थानों के परिसर में व्याप्त तमाम तरह की समस्याओं को दूर करने और नकारात्मक शक्तियों को बच्चों के मस्तिष्क से दूर करने की जरूरत है. उन्होंने एलएस कॉलेज के स्वर्णिम अतीत से प्रेरणा लेकर जन भागीदारी से पुराने गौरव को स्थापित करने की बात कही. कहा कि बिहार अपनी प्रतिभा के बदौलत अपने स्वर्णिम विरासत को फिर से स्थापित कर सकता है.

पीढ़ी को दिशा देने के लिए हो रहा प्रयास

कॉलेज के प्राचार्य डाॅ ओमप्रकाश राय ने स्वागत भाषण किया. उन्होंने कहा कि युवा पीढ़ी को दिशा देने के लिए कॉलेज में लगातार प्रयास किये जा रहे हैं. कॉलेज में शीघ्र ही इनक्यूबेशन सेंटर और उद्योग विभाग की सहायता से विभिन्न प्रकार के स्टार्टअप प्रोजेक्ट की शुरुआत की जायेगी.

Advertisment 
--------------------------------------------------------------------------
क्या आप भी फोन कॉल पर ऑर्डर लेते हुए थक चुके हैं? अपने व्यापार को मैन्युअली संभालते हुए थक चुके हैं? आज के महंगाई भरे समय में आपको सस्ता स्टाफ और हेल्पर नहीं मिल रहा है। तो चिंता किस बात की?

अब आपके लिए आया है एक ऐसा समाधान जो आपके व्यापार को आसान बना सकता है।

समाधान:
अब आपके साथ एस डी एड्स एजेंसी जुडी है, जहाँ आप नवीनतम तकनीक के साथ एक साथ में काम कर सकते हैं। जैसे कि ऑनलाइन ऑर्डर प्राप्त करना, ऑनलाइन भुगतान प्राप्त करना, ऑनलाइन बिल जनरेट करना, ऑनलाइन लेबल जनरेट करना, ऑनलाइन इन्वेंट्री प्रबंधन करना, ऑनलाइन सीधे आपके नए आगमनों को सोशल मीडिया पर ऑटो पोस्ट करना, ऑनलाइन ही आपकी पूरी ब्रांडिंग करना। आपके स्टोर को ऑनलाइन करने से आपके गैर मौजूदगी के समय में भी लोग आपको आर्डर कर पाएंगे। आपका व्यापार आपके सोते समय भी रॉकेट की तरह दौड़ेगा। गूगल पर ब्रांडिंग मिलेगी, सोशल मीडिया पर ब्रांडिंग मिलेगी, और भी बहुत सारे फायदे मिलेंगे आपको! 🚀

ई-कॉमर्स प्लान:
मूल्य: 40,000 रुपये
50% छूट: 20,000 रुपये
ईएमआई भी उपलब्ध है
डाउन पेमेंट: 5,000 रुपये
10 ईएमआई में 1,500 रुपये
साथ ही विशेष गिफ्ट कूपन

अब आज ही बुकिंग कीजिए और न्यूज़ पोर्टल्स में विज्ञापन प्लेस करने के लिए आपको 10,000 रुपये का पूरा गिफ्ट कूपन दिया जा रहा है! इसे साल भर में हर महीने 10,000 रुपये के विज्ञापन की बुकिंग के लिए 10 महीने तक उपयोग कर सकते हैं।

अब तकनीकी की मदद से अपने व्यापार को नई ऊँचाइयों तक ले जाइए और अपने व्यापार को बढ़ावा दें! 🌐
अभी संपर्क करें - 📲8109913008 कॉल / व्हाट्सप्प और कॉल ☎️ 03369029420


 

शिक्षा के स्तर को सुधारना होगा

अध्यक्षीय संबोधन में पूर्व एमएलसी प्रो.नरेंद्र प्रसाद सिंह ने कहा कि कॉलेज में आधारभूत संरचना अब उच्च श्रेणी का हो गया है. अब अकादमिक उन्नति की दिशा में और प्रयास करने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि पहले एलएस कॉलेज में नामांकन के लिए चयनित होने पर यहां से पत्र जाता था और यह सुनकर अभिभावक से लेकर रिश्तेदार तक आह्लादित होते थे कि उनके बच्चे का नामांकन एलएस कॉलेज में हुआ है. उन्होंने कहा कि शिक्षा के स्तर में गिरावट आयी है और हमसब को मिलकर इसे सुधारना होगा.

परिसर में लगाए गए 125 पौधे

कार्यक्रम का संचालन प्रो.गोपाल जी और धन्यवाद ज्ञापन प्रो. एसआर चतुर्वेदी ने किया. इससे पहले उप मुख्यमंत्री ने परिसर में मौजूद महापुरुषों की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया. 125वें स्थापना दिवस के मौके पर परिसर में 125 पौधे लगाये गये. समारोह में कॉलेज में बेहतर प्रदर्शन करने वाले छात्र- छात्राओं को सम्मानित किया गया. मौके पर प्रो.अजीत कुमार, प्रो.प्रमोद कुमार, प्रो.टीके डे, प्रो.राजीव कुमार, प्रो.जयकांत सिंह, प्रो.पुष्पा कुमारी, पूर्व आईएएस डॉ संजय सिन्हा, डाॅ शरतेंदु शेखर, डॉ ऋतुराज कुमार, डॉ राजेश्वर कुमार, डॉ शशि भूषण पांडेय, डाॅ नवीन कुमार, डाॅ ललित किशोर, डाॅ सतीश कुमार, ऋषि कुमार समेत अन्य शिक्षक और छात्र-छात्राएं मौजूद रहे.

समाज शिक्षा और स्वास्थ्य के साथ ही विकसित होता : एमएलसी

एमएलसी देवेश कुमार के सहयोग से कॉलेज में ई-लाइब्रेरी की स्थापना की गई है. ई.लाइब्रेरी में पत्र-पत्रिकाओं से लेकर अन्य जर्नल का अध्ययन कर सकेंगे. एमएलसी देवेश कुमार ने कहा कि मुजफ्फरपुर से गहरा नाता रहा है. कोई भी समाज शिक्षा और स्वास्थ्य के साथ ही विकसित होता है. इसकी अनदेखी कर समाज आगे नहीं बढ़ सकता. इस राज्य ने वह दौर देखा है जब शिक्षा को ध्वस्त किया गया. वर्तमान सरकार के एजेंडे में शिक्षा को प्रमुखती दी गयी है. पूर्व कुलपति डाॅ रिपुसूदन श्रीवास्तव ने कॉलेज के अतीत से लेकर वर्तमान तक के सफर की विस्तार से जानकारी दी.

Also Read: Muzaffarpur News: निर्माण और मरम्मत पर 72 लाख खर्च, फिर भी सड़कें कीचड़मय, दुकानदार परेशान

बाबू लंगट सिंह के योगदान पर चर्चा

डॉ राजीव झा ने कॉलेज की स्थापना में बाबू लंगट सिंह के योगदान की चर्चा करते हुए लंगट सिंह कॉलेज की शैक्षणिक यात्रा को रेखांकित किया. प्रो.प्रमोद कुमार ने कहा कि सदाचार और समर्पण के साथ-साथ अतीत से प्रेरणा लेकर शैक्षणिक संस्थान अपने विकास की दिशा में आगे बढ़ सकते हैं. एलएस कॉलेज के पूर्ववर्ती छात्र विनय कुमार आजाद ने कहा कि 1966 में कक्षा से लेकर बरामदे तक बच्चे भरे होते थे. 150 छात्र के बैठने की जगह होती थी और 400 बच्चे उपस्थित होते थे. अब बच्चे कक्षाओं में नहीं आते. उन्होंने कहा कि यदि बच्चे आएं तो वे भी कक्षाएं में आकर पढ़ाने में उत्सुक हैं.



Source link


Discover more from सच्चा दोस्त न्यूज़

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours

Leave a Reply