RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

शोभायात्रा के साथ श्रीमद् भागवत महापुराण की बैठकी

दमोह सच्चा दोस्त
मोक्ष का मार्ग बतलाती है भागवत कथा पं.ऋषिकांत गर्ग
जिले की पथरिया जनपद के ग्राम जोरतला में मां विंध्यवासिनी मंदिर परिसर में श्रीमद् भागवत महापुराण का आयोजन कलश यात्रा के साथ प्रारंभ हुआ कथा वाचक बालब्यास पं.ऋषिकांत गर्ग जी महाराज ने बताया की भागवत की कथा प्राणियों में मृत्यु के भय को समाप्त करती है तथा उन्हें सद्कर्म करते हुए मोक्ष मार्ग की और प्रस्तुत करती है। उन्हें सद्कर्म करते हुए मोक्ष मार्ग की तरफ प्रवृत्त करती है। जो भी धर्मालुजन सात दिवस तक भागवत कथा श्रवण करते हैं वे निश्चित ही मृत्यु के भय से दूर हो जाते हैं। श्रीमद् भागवत कथा आयोजित करने वाले एवं कथा कार्य में सहयोग करने वाले दोनों की पुण्यशाली होते है
भागवत कथा मोक्ष प्राप्ति का मार्ग है। इसमें बताए हुए मार्गों पर चलने से मनुष्य मोक्ष को प्राप्त करता है। इंसान जब जन्म लेता है तो मुट्ठी बांध कर आता है, लेकिन जीवन के आखिरी पल में वह खाली हाथ जाता है। भागवत सुनने से मन को शांति मिलती है। उन्होंने कहा कि प्रभु स्मरण से प्राणी मात्र का आत्म कल्याण होता है। वह बैकुंठधाम को प्राप्त करता है। सारे पुण्य पर एक पाप भारी होता है।
अच्छा करने का परिणाम शुभ ही होता है और अच्छा होने के लिए भगवत ज्ञान का रसपान करना ही एक मात्र साधान है। जहां सम्मान नहीं है, वहां जीवन जीने का अानंद नहीं है। यदि हम किसी का सम्मान नहीं कर सकते हैं, तो हमें अपमान भी नहीं करना चाहिए। इस मौके पर सुरेंद्र पाठक सुरेंद्र पुजारी शुभम मिश्रा दीपक मिश्रा संस्कार गर्ग सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित रहे

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

Rahul kumar jain

जिला ब्यूरो प्रमुख सच्चा दोस्त दमोह

Leave a Reply

%d bloggers like this: