RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

सिद्धि बहन राका का तीन दिवसीय दीक्षा अभिनंदन समारोह,दिनांक 24 ,25 ,26 सकल संघ द्वारा आयोजित कार्यक्रम

मनीष कुमट

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

रायपुरिया .संयम के पथ पर चलकर आत्मा के परिष्कार के लिए तत्पर बालिका सुश्री सिद्धि राका आगामी 6 अप्रैल 2022 को मुंबई में जैन भगवती दीक्षा अंगीकार करेगी यह रायपुरिया सहित समूचे डूंगर अंचल के लिए समाधि के फलित होने का स्थान होगा इस दौर में जबकि मनुष्य मात्र अपने क्षुद्र स्वार्थ और छोटे छोटे लोग के वशीभूत होकर कर्मों से ढेर सारे बंधन अपने चारों ओर बांध लेता है ऐसे समय में जब मनुष्य मात्र सुविधाओं पर बिकने मिटने वाला हाड मास का पुतला बन गया है ऐसे दौर में 18 वर्ष की किशोर वय में बालिका सिद्धि में जैन तप परंपरा को सिंचित किया है बालिका सिद्धि रायपुरिया एक सामान्य जैन परिवार में जन्मी तथापि प्रारंभिक एवं माध्यमिक शिक्षा भी उसने रायपुरिया से ग्रहण की तत्पश्चात उसकी मनोभाव भूमि पर गुरु कृपा से वीतराग का बीजारोपण हुआ सिद्धि गुरु के संरक्षण में निरंतर तप व्रत उपवास और आराध्या के मार्ग मार्ग पर आगे बढ़ती रहे नतीजा यह हुआ कि एक समृद्ध तथा परिपूर्ण मुमुक्षु के रूप में वह भगवती दीक्षा के लिए पूर्णरूपेण तैयार हो गई गुरु भगवन ने उसकी सन्तत्व की गहरी प्यास को देखते हुए 6 अप्रैल का दिन भगवती दीक्षा के लिए तय कर दिया सिद्धि की प्रतिभा का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है की उसे जैन दर्शन के 14 आगम कंठस्थ याद है तथा साधु जीवन के लिए पर्याप्त ग्रंथों का स्वाध्याय वह पूर्ण कर चुकी है और तपस्या के सारे अभ्यास उसने लगन पूर्वक पूर्ण करें अब वह अपने आत्मस्वरूप निखारने के लिए पूरी तरह तैयार है पूरा अंचल अपने आप को इस अवसर पर धन्य अनुभव कर रहा है रायपुरिया नगर मे इस प्रसंग पर भारी उत्साह का माहौल है। हर कोई सिद्धि बहन की वितराग राह पर जाने की अनुमोदना कर रहा है तीन दिवसीय कार्यक्रम सफल बनाने के लिए सकल संघ द्वारा दीक्षा महोत्सव समिति का गठन भी किया गया जिसके तत्वाधान में दिनांक 24 को माताजी पूजन दिनांक 25 को केसर हल्दी मेहंदी बड़ी चौबीसी एवं रात्रि में अनीस राठौर एंड पार्टी मुंबई द्वारा भक्ति एवं अभिनंदन समारोह दिनांक 26 मार्च को प्रातः शोभा यात्रा वर्षी दान एवं 11:00 बजे स्वामी वात्सल्य संघ द्वारा रखा गया

Leave a Reply

%d bloggers like this: