RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

पूज्य रामानुज जी की भव्य रामकथा चित्रकुट तीर्थ पर 20 से 28 जुलाई तक,समिति ने अधिक से अधिक संख्या में धर्मलाभ लेने की अपील की

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

झाबुआ । राष्ट्रसन्त आचार्य श्री रामानुज जी की पावन वाणी से हिन्दू तीर्थ श्री चित्रकूट धाम पर श्री राम कथा का वृहद आयोजन 20 जुलाई से 28 जुलाई 22 को किया जा रहा है। वर्तमान में पिपलखुटा सिद्ध पीठ श्री हनुमन्त आश्रम के विकास पुरुष महंत पूज्यश्री दयाराम दास जी महाराज की प्रबल इच्छा थी कि श्री रामानुज चित्रकूट धाम में रामकथा का आयोजन करे। पूज्यश्री की भावना को साकार करने के लिए अखिल भारतीय हरिकथा समिति ने उक्त कार्यक्रम को करने की तैयारियां प्रारंभ कर दी है।

हरिकथा समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष गम्भीरमल राठी ने एक जानकारी में बताया कि पूज्य रामानुज जी से सम्पर्क हुआ और सन 2011 राणापुर में कथा का आयोजन निश्चित किया गया। उस कथा की खासियत कहे या प्रभाव की कथा के समय को छोड़ इंद्र देव इतने मेहरबान होकर इतना पानी बरसाते थे कि परिसर और शामियाने तर हो जाते थे,। पर कथा के समय से एक घण्टे पूर्व इतनी तेज धूप निकलती थी और पूरा परिसर सुख जाता था। रामानुज की कथा के प्रभाव को देखते हुए हरिकथा समिति का गठन किया गया और हरिद्वार में कथा का आयोजन किया गया। कथा की प्रभावकता को देखते हुए श्री रामानुज की भावना अनुसार इसे राष्टीªय स्तर की समिति बनाते हुए मन्दसौर,निम्बाहेड़ा,जोधपुर,बदनावर ,राणापुर और इंदौर के श्रद्धालुओं को जोड़ा गया। और संकल्प लिया कि सभी तिर्थों में श्रीमदभागवत या राम कथा का नव दिवसीय आयोजन किया जायेगा। समिति ने राणापुर और हरिद्वार के बाद रामेश्वर, राणापुर, नेमिसारण्य,जगन्नाथ पूरी ,बद्रीनाथ ,पिपलखुटा और उज्जैन महाकुम्भ में कथा का आयोजन किया , जिसमें मध्य प्रदेश गुजरात,महाराष्ट्र और राजस्थान के 1000 से अधिक श्रद्धालुओं ने भाग लिया।

इसी संकल्प की कड़ी में महंत दयाराम दास जी की मनोभावना के तहत चित्रकूट धाम में श्री राम कथा का नव दिवसीय आयोजन हो रहा है। इस कथा में व्यास पीठ पर बिराजमान होकर आचार्य श्री रामानुज रामायण के अनछुए पहलुओं पर अपनी दृष्टि करते हुए संगीत की स्वर लहरियों से श्रोताओं को रसास्वादन कराएंगे। श्री गंभीरमल राठी ने पूरे अंचल की धम्रप्राण जनता से अपील की है कि 20 जुलाई से 28 जुलाई तक पवित्र तीर्थस्थल चित्रकुट में आयोजित इस ज्ञान गंगा का सपरिवार लाभ उठाकर धर्मलाभ लेवें ।

समिति ने चित्रकूट धाम का प्रवास कर धर्मशाला,भोजनशाला और ठहरने की व्यवस्था को तय कर लिया है। शेष व्यवस्थाओं के लिए भी अलग अलग समितियों का मनोनयन शीघ्र ही कर लिया जायेगा। समिति के रामशंकर शर्मा, राव विजय सिंह,नरेंद्र अग्रवाल, सत्य नारायण छ्परवाल,मन्दसौर,अनिल सोमानी ,श्याम आमेटा निम्बाहेड़ा,उम्मेदकिशन जोधपुर, शांतिलाल पडियार झाबुआ, कृष्णपाल सिंह चन्द्रावत बदनावर रमेश सोनी, सुरेश समीर, कन्हैयालाल पाठक,चन्दूलाल पडियार ,दामोदर उपाध्याय राणापुर और श्री रामानुज के परम् शिष्य पियूष ने अपील की हैे की इस आयोजन में अपने तन मन और धन से सहयोग देकर गरिमामय बनाते हुए धर्मलाभ ले।

Leave a Reply

%d bloggers like this: