RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

झाबुआ के बाजार में जमकर बिक रहीं ग्रामीणों की प्रिय मिठाई माजम-गुजरी, युवा व्यवसायी रिंकू रूनवाल पिछले 10 वर्षों से कर रहे माजम-गुजरी बेचने का कार्य इस बार माजम-गुजरी की बिक्री अच्छी


झाबुआ। जिले में लगने वाले भगोरिया हाटों और होली, धुलेंडी एवं गल पर्व के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों के लोग अपनी प्रिय मिठाई माजम-गुजरी का जमकर लुत्फ उठाते है। पिछले वर्ष जहां कोरोना की दूसरी लहर के अत्यधिक प्रकोप के कारण शासन-प्रशासन द्वारा भगोरिया हाट निरस्त किए गए थे, वहीं इस वर्ष अब कोरोना का प्रकोप खत्म होने के बाद जिले के भगोरिया हाटों में ग्रामीणों की भारी भीड़ उमड़ रहीं है। ग्रामीण महिला-पुरूष, युवा, बच्चे, बड़े, बुजुर्ग हर कोई भगोरिया में झूले-चकरी, दुकानों पर खरीदी, पान-कुल्फी, ठंडाई का आनंद लेने के साथ इस दौरान ग्रामीणजन अपनी प्रिय मिठाई माजम-गुजरी का भी जमकर लुत्फ उठा रहे है।
माजम-गुजरी भगोरिया हाट में ठेलगााड़ियों पर आवाज लगाकर बिक रहंीं है। इन दुकानों पर खरीदी के लिए ग्रामीणजनों की भीड़ भी देखने को मिल रहीं है। शहर में पिछले 10 वर्षों से माजम-गुजरी का व्यवसाय करने वाले युवा रिंकू रूनवाल ने बताया कि उन्होंने इस वर्ष भी बाजार में माजम-गुजरी की दुकान लगाई है। माजम और गुजरी प्रायः शक्कर से बनती है। श्री रूनवाल के अनुसार वे बाहर से रेडिमेड माजम-गुजरी खरीदकर लाए है और बाबेल चौराहे पर ठेलागाड़ी लगाकर बेच रहे है। जिसमें माजम 80 रू. किलो एवं गुजरी 90 रू. किलो बेची जा रहंी है।
भाव अधिक, लेकिन बिक्री पर कोई असर नहंी
इस बार तेल एवं अन्य सामग्रीयों के भाव बढ़ने से भाव में जरूर कुछ बढ़ोत्तरी हुई है, बाजूवद इसके इन दिनों भगोरिया, होली, धुलेंडी एवं गल पर्व के चलते बाजार गुलजार होने से इनकी बिक्री जमकर हो रहीं है। ग्रामीणजन माजम-गुजरी का भगोरिया में लुत्फ उठाने के साथ धुलेंडी एवं गर्ल पर्व के दौरान पूजन की मिठाई के रूप में भी इसका उपयोग कर रहे है।

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

Leave a Reply

%d bloggers like this: