RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

क्षेत्रीय विधायक ने लगाए भाजपा पर कई आरोप सच्चा दोस्त से बातचीत में बताई कांग्रेस की रणनीति

फ़ोटो – पारा सच्चा दोस्त प्रतिनिधि प्रभाष ए जैन से चर्चा करते क्षेत्रीय विधायक वालसिंह मेड़ा।

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

           

क्षेत्रीय विधायक गुरुवार को सच्चा दोस्त प्रतिनिधि के घर पहुंचे और विकास के मुद्दों और भविष्य की रणनीति पर एक लंबी चर्चा की।
प्रस्तुत है बातचीत के कुछ अंश – सच्चा दोस्त – आज पारा क्षेत्र में कांग्रेस दिखाई क्यों नही देती ?
विधायक – ऐसा नही है कि कांग्रेस नही दिखती लेकिन हां हम अपने कार्यक्रमो और बैठकों का प्रचार ठीक से नही कर पाते।
सच्चा दोस्त – आप किन मुद्दों को लेकर भविष्य जनता के सामने जाएंगे ?
विधायक – सबसे पहले महंगाई और बेरोजगारी , ये सबसे बड़ी समस्या है । हालांकि भाजपा ने वैसे भी इस क्षेत्र को कुछ नही दिया है। आज इस पूरे पारा क्षेत्र में विकास और किसानी – खेती समृद्ध है वो हमारे पूर्वज कांग्रेसियों की ही देन है। कोरोना काल मे शिवराजसिंह चौहान ने दोनों हाथ हिला कर कहा था कि अब किसानों का बिजली का बिल माफ किया जाएगा लेकिन आज तक कोई भाजपाई नही बता पा रहा कि वो बिल कब माफ होंगे। भाजपा सरकार पर आरोप लगाते विधायक ने कहा कि कांग्रेस शासनकाल मे सरकारी पदों पर हुई नियुक्तियों के बाद इस क्षेत्र से भाजपा ने कितने युवाओं को नौकरी दी इस बात बात का जवाब भी नही है। जबकि मात्र 15 महीने की सरकार में भी कांग्रेस ने किसानों के 2 लाख रुपये तक कर्ज माफ कर दिए थे।
सच्चा दोस्त – लेकिन भाजपा का कहना है कि उन्होंने हर वर्ग के लिए बहुत काम किया ?
सच्चा दोस्त – केंद्र की मोदी सरकार हो या राज्य की शिवराज सरकार दोनो ही सरकारें कांग्रेस की योजनाओं को नाम बदल कर लागू कर रही है।
सच्चा दोस्त – आगे होने वाले पंचायत चुनावों में आप की क्या स्थिति है ?
विधायक – देखिए आप खुद समझिए प्रदेश में चुनाव की घोषणा हो गई इसके बाद जब भाजपा के बड़े नेताओं को जमीनी स्तर की रिपोर्ट गई कि वे पूरे प्रदेश में हार रहे हैं तो उन्होंने चुनाव टाल दिए। जहां तक आरक्षण की बात है आज ये बात अपने आप में साबित हो गई इस विषय पर कांग्रेस पहले से ही सही थी।
सच्चा दोस्त – आप ने पारा के बालक हायर सेकेंडरी स्कुल में बाउंड्रीवाल दी है लेकिन 1964 में शुरू हुई यह स्कूल आज भी मिडिल स्कूल के लिए बने हुए भवन में संचालित हो रही है, छात्रों के भविष्य को देखते हुए आप इस पर क्या कहेंगे ?
विधायक – देखिए 15 महीने की कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में 4 महीने तो आचार सहिंता में ही चले गए। जहां तक स्कूल या अन्य विकास की बात है तो मैं आप से ये ज़रूर कहना चाहूंगा कि पेटलावद विधानसभा के पारा क्षेत्र में सारे काम कांग्रेस सरकार ने ही किये हैं।
सच्चा दोस्त – पारा क्षेत्र के कई युवा और पुराने कार्यकर्ता भाजपा में शामिल हो गए उनके बारे में क्या कहना चाहेंगे।
विधायक – हर कार्यकर्ता की अपनी महत्वाकांक्षा होती है। किसी का पार्टी बदलना उसका अपना व्यक्तिगत निर्णय होता है हालांकि मैं ये ज़रूर कहना चाहूंगा कि जिन्होंने भी कांग्रेस छोड़ी है उन्हें पार्टी ने काफी सम्मान दिया था।
सच्चा दोस्त – लेकिन बीच मे तो आपके भी भाजपा में जाने की खबरे थी।
विधायक – मुझ पर मेरी पार्टी के बड़े नेताओं को बहुत भरोसा है। पार्टी छोड़ने की अफवाहों के बाद भी किसी बड़े नेता ने मुझे कुछ नही कहा क्यों की किसी भी लालच में मैं मेरी पार्टी को धोखा नही दे सकता।
सच्चा दोस्त – वर्तमान में पारावासी गर्मियों में पानी के लिये काफी परेशान होते हैं, हालांकि धमोई से पारा पानी लाने की योजना है।
विधायक – मप्र में कांग्रेस की सरकार जैसे ही बनी हमने धमोई से पारा पानी लाने की योजना तैयार करवाई और हमे इसकी मंजूरी भी मिल गई, लेकिन बजट में शामिल होने के पूर्व हमारी सरकार गिर गई। जहां तक धमोई से पानी की योजना का सवाल है उस योजना पर आज तक कोई भी काम शुरू नही हुआ है और मैं यही कह रहा था कि भाजपा की कथनी और करनी में यही फर्क है । विधायक ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाते कहा कि भाजपा ने सरपंचों के अधिकारों का हनन किया है। इसी कारण छोटे ग्रामीण क्षेत्रों में कई छोटी योजनाओं पर ग्रहण लग गया है।
सच्चा दोस्त – पारा क्षेत्र की सबसे बड़ी पंचायत आम्बा की एक 6 किमी की सड़क आज़ादी के बाद से अब तक नही बनी।
विधायक – जैसा कि मैने आपको पहले भी बताया था इस सड़क के लिए में भोपाल तक जा चुका हूं और पीडब्लूडी मंत्री और मुख्यमंत्री से राजनीति से अलग रह कर इस क्षेत्र के विकास की बात कही। मेरी कोशिश है कि इस सड़क के लिए बजट में प्रावधान हो। मेड़ा ने सांसद डामोर पर निष्क्रियता का आरोप लगाते कहा कि वे चाहे तो 6 किमी की सड़क को किसी भी तरह बनवा सकते थे। विधायक ने कहा कि मैं आप के माध्यम से क्षेत्र की जनता को विश्वास दिलाता हूं कि भविष्य में जितना भी हो सकेगा इस क्षेत्र के लिए काम करता रहूंगा और 2023 में एक बार जब फिर कांग्रेस की सरकार बन जाएगी तो विकास की गंगा बहेगी।

Leave a Reply

%d bloggers like this: