RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

शिवपुरी का होनहार युवक यूक्रेन में फंसा, छात्र व परिजनों ने लगाई सरकार से मार्मिक गुहार

सह.सम्पादक अतुल जैन की रिपोर्ट

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/


अपने पुत्र की सकुशल वापिसी को लेकर पिता जेलर व्ही.एस.मौर्य कर रहे है हर संभव प्रयास


शिवपुरी। शहर के ग्वालियर वायपास निवासी जेलर व्ही.एस.मौर्य का होनहार छोटा पुत्र हिमांशु राज मौर्य इन दिनों रूस-यूक्रेन के महायुद्ध में फंस गया है। हिमांशु के यूक्रेन में फंसे होने की यह जानकारी उनके माता-पिता जेलर व्ही.एस.मौर्य व श्रीमती माया मौर्य को तब लगी जब एक वीडियो कॉल के माध्यम से हिमांशु ने अपने माता-पिता को यूक्रेन के वर्तमान हालातों की जानकारी दी। इस वीडियो कॉल के तुरंत बाद ही जेलर व्ही.एस.मौर्य तत्परता से अपने पुत्र की सकुशल वापिसी को लेकर हर संभव प्रयास कर रहे है वहीं दूसरी ओर स्वयं हिमांशु राज मौर्य जो कि यूक्रेन में चिकित्सक बनने की तैयारी कर रहे थे, ने अपनी व अपने समस्त साथी मित्रों की सकुशल वापिसी को लेकर भारत सरकार से मार्मिक गुहार लगाई है और अपने सोशल मीडिया एकाउंट से अपने यूक्रेम में फिलहाल सुरक्षित होने की जानकारी भी साझा की है। हालांकि इस घटना के बाद शिवपुरी शहर के नागरिक भी हिमांशु व उनके सभी साथियों की सकुशल वापिसी को लेकर  दुआ-प्रार्थना कर रहे है।
एमबीबीएस की पढ़ाई करने यूक्रेन गया में है हिमांशु
श्योपुर जेल में कार्यरत अधीक्षक व्ही.एस.मौर्य के पुत्र हिमांशु राज मौर्य चिकित्सा पढ़ाई को लेकर यूक्रेम में एमबीबीएस की तैयारी कर रहे है। वैसे भी शिवपुरी जिले के कई विद्यार्थी विदेशो में अध्ययन के लिए जाते रहे हैं। ऐसा ही छात्र हिमांशु राज मौर्य भी एमबीबीएस करने यूक्रेन की खरकी मेडिकल यूनिवर्सिटी गया था इसी दौरान रूस और यूक्रेन दो देशों के बीच महायुद्ध की लड़ाई छिड़ गई और हवाई हमले हो रहे है, इस लड़ाई की जंग में छात्र हिमांशु भी अपने साथियों के साथ यूक्रेन में ही फंस गया है। यहां रूस की सेना ने यूक्रेन पर हमला कर दिया है तो हिमांशु के साथ-साथ उनके परिजन भी अब न सिर्फ चिंतित हैं बल्कि भयभीत है। चूंकि यूक्रेन से सारी फ्लाइट रद्द कर दी गयी तो सैंकड़ों भारतीय वहां फंस गए हैं। मेडिकल यूनिवर्सिटी में जो हालात हैं उसका एक वीडियो भी हिमांशु ने बनाकर सोशल मीडिया एकाउंट व अपने परिजनों को भेजकर वहां की वस्तुस्थिति से अवगत कराया है जिसमे हिमांशु सहित सभी मेडिकल छात्र एक बंकरनुमा कमरे में भयभीत दिखाई दे रहे हैं। हिमांशु की माँ श्रीमती माया मौर्य के आंसू रुक नही रहे हैं और वो सिर्फ अपने पुत्र की सकुशल वापस लाने की अपील करती नजर आ रही है।


इनका कहना है-


हमारा होनहार पुत्र हिमांशु राज मौर्य व उसके अन्य चिकित्सा की पढ़ाई करने वाले छात्र इन दिनों यूक्रेन में चल रहे महायुद्ध के चलते फंस गए है कोई फ्लाईट ना होने के चलते आवाजाही पूरी तरह से बंद है, हमने भारतीय एमबेसी से भी संपर्क करने का प्रयास किया है और हम पुत्र व उसके सहयोगी साथियों की सकुशल वापिसी को लेकर प्रयास कर रहे है।


व्ही.एस.मौर्य
जेलर, श्योपुर, शिवपुरी

Leave a Reply

%d bloggers like this: