कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने पोहरी में वैक्सीनेशन अभियान का लिया जायजा

सह.सम्पादक अतुल जैन की रिपोर्ट


शिवपुरी।
अभी 15 से 18 आयु वर्ग के किशोर व किशोरियों के वैक्सीनेशन के लिए अभियान चलाया जा रहा है। इस आयु वर्ग का कोई भी बच्चा वैक्सीनेशन से ना छूटे, इसके लिए अभियान चलाकर टीम काम कर रही है। कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह भी लगातार क्षेत्र में भ्रमण कर रहे हैं और वैक्सीनेशन अभियान का जाएगा ले रहे हैं।
 शनिवार को भी कलेक्टर अक्षय सिंह पोहरी में भ्रमण के लिए निकले। उन्होंने झिरी में वैक्सीनेशन अभियान का जायजा लिया और टीम से जानकारी ली और कहा कि पूरी टीम इसी जज्बे से काम करे, तो हम शत-प्रतिशत लक्ष्य को प्राप्त कर लेंगे। पोहरी में भ्रमण के दौरान वहां से गुजरते समय मोबाइल टीम को काम करते देखा। मोबाइल टीम द्वारा क्षेत्र में घूम घूम कर बच्चों को वैक्सीन लगाई जा रही है।
 वैक्सीनेशन को लेकर कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने सभी नोडल अधिकारियों को भी निर्देश दिए हैं। उन्हीं के निर्देशानुसार शनिवार के इस अभियान में सभी नोडल अधिकारी अपने क्षेत्र में निकले। उन्होंने स्थानीय अमले के साथ समन्वय से लोगों से सम्पर्क किया। डोर टू डोर जाकर भी प्रशासन की टीम संपर्क कर रही है और लोगों से पूछा जा रहा है कि 15 से 17 वर्ष का कोई बच्चा उनके घर में हो तो उसे वैक्सीन जरूर लगवा लें। यह भी बताया जा रहा है कि जिस बच्चे का जन्म वर्ष 2007 का है, वह वैक्सीन लगवाने के लिए पात्र है। अभी तक लाखों बच्चे वैक्सीन लगवा चुके हैं इसलिए डरने की भी कोई जरूरत नहीं है। यह पूरी तरह सुरक्षित है।
पोहरी में वैक्सीनेशन का जायजा लेते हुए कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने एसडीएम पोहरी राजन नाडीया और पूरी टीम को निर्देश देते हुए कहा है कि लगातार मॉनिटरिंग करें। जो टीम अच्छा काम करेगी उसे सम्मानित किया जाएगा, जबकि कार्य में लापरवाही करने वालों के विरुद्ध कार्यवाही के प्रति भी प्रशासन सख्त है।
 प्राप्त जानकारी अनुसार शाम 5 बजे  तक की रिपोर्ट के अनुसार लगभग 15000 वैक्सीन लग चुके थे और लगातार टीम उसी जज्बे से काम कर रही थी। कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने भ्रमण के दौरान मोबाइल टीम से भी जानकारी ली और उनका उत्साहवर्धन किया। जिन अधिकारियों को मोबाइल टीम दी गई हैं उन्हें भी निर्देश दिए हैं कि टीम का बेहतर उपयोग करें और अपने क्षेत्र में शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन कराएं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: