हरिनखेड़े बाबू नही हटा तो होगा आंदोलन-अनीस

हरिनखेड़े बाबू नही हटा तो होगा आंदोलन-अनीस
मतीन रजा…
लालबर्रा
– ग्राम पंचायत पांढरवानी/लालबर्रा निवर्तमान सरपँच अनीस खान ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि लालबर्रा तहसील कार्यालय लेन-देन व बिचौलियों का अड्डा बन गया है, जिसे अंजाम देता है, लालबर्रा तहसील कार्यालय में लगभग 20 तक एक ही स्थान पर पदस्थ पेमेंद्र हरिनखेड़े बाबू जो कि अपने आपको लालबर्रा तहसील का कलेक्टर से कम नहीं समझता आये दिन आम जनता से दुर्व्यवहार सहित तहसील कार्यालय के कार्याे में नेताओ से सम्बंध का लाभ उठाते रहता है। श्री खान ने बताया कि लालबर्रा तहसील कार्यालय का माहौल खराब करने के कारण तहसील अधिवक्ता संघ ने भी पूर्व में इस बाबू के खिलाफ व इसे लालबर्रा से हटाने ज्ञापन दिया था लेकिन एक नेता के रिस्तेदारी सम्बंध के कारण व तहसील कार्यालय के कार्याे को मन चाहे आदेश जारी करवाने, शासकीय कार्याे की गोपनीयता भाजपा नेता को पहचाने के लिए इसको विवादित बाबू होने पर भी लालबर्रा तहसील में रखा गया है। श्री खान ने बताया कि विगत दिनों उनके द्वारा नायब नाजिर तहसील बाबू को लालबर्रा से हटाने पत्र दिया गया था जिस पर कुछ दिनों के लिए इस बाबू को हटा भी दिया गया था, किंतु पुनः यह विवादित बाबू फिर से लालबर्रा तहसील में पदस्थ हो गया और लोगो से प्राप्त जानकारी अनुसार तहसील कार्यालय लालबर्रा का वातावरण पुनः दुसित करने का प्रयास कर रहा है। श्री खान ने जिला कलेक्टर महोदय से अनुरोध किया है, कि शासकीय नियमो के विपरीत व निलंबित होने के बाद भी एक ही स्थान पर लगभग 20 वर्ष तक पदस्थ विवादित बाबू को अतिशिघ्र हटाया जाए,

साथ ही अब तक पेमेंद्र हरिनखेड़े द्वारा प्रस्तुत तहसील प्रकरणों की जाँच भी की जाए तो सब कुछ साफ हो जाएगा। श्री खान ने यह भी बताया कि तहसील कार्यालय का विवादित बाबू पेमेंद्र हरिनखेड़े जल्द नही हटा तो वे जनहित में आंदोलन करेंगे व इस बाबू की सारी करतूतों को भोपाल में उठाया जाएगा साथ ही इस बाबू को संरक्षण देने वाले नेता का चेहरा भी साफ हो गया उसे भी आने वाले समय मे जनता के सामने उजागर किया जायेगा। 

Leave a Reply

%d bloggers like this: