झाबुआ जिले में सभी के सहयोग से कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए कारगर कदम उठाए जाएंगे, मास्क सोशल डिस्टेनसिंग को लेकर सख्ती बरती जाएगी, लेकिन लॉकडाउन जैसे नौबत नहीं आने दी जाएगी -ः प्रभारी मंत्री इंदरसिंह परमार


मप्र शासन के उच्च षिक्षा राज्यमंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री आईएस परमार 11 एवं 12 जनवरी को झाबुआ जिले के दौरे पर रहे
पुलिस लाईन में बैंड मिंटन ग्राउंड का लांच करने के साथ जिला चिकित्सालय में एसआईसीयू एवं पीआईसीयू के नवीन कक्ष का किया लोकार्पण  
अनास नदी पर करीब 55 करोड़ की लागत के अनास नदी के ब्रिज का किया लोकार्पण

झाबुआ। मप्र शासन के उच्च शिक्षा राज्यमंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री इंदरसिंह परमार 11 जनवरी, मंगलवार एवं 12 जनवरी, बुधवार को झाबुआ जिले के दौरे पर रहे।  11 जनवरी मंगलवार रात्रि में उन्होंने स्थानीय डीआरपी लाईन में सर्व-सुविधायुक्त बैंड मिंटन लॉन (ग्राउंड) का फीता काटकर लोकार्पण किया। बाद खिलाड़ी एवं बच्चों को टॉफी का वितरण किया। इसके बाद वह रात्रि मंे जिला चिकित्सालय पहुंचे। जहां संपूर्ण चिकित्सालय का अवलोकन बाद चिकित्सालय में नव-निर्मित एसआईसीयू एवं पीआईसीयू के सुविधायुक्त नवीन कक्ष का भी फीता काटकर लोकार्पण कर अंदर प्रवेश कर सारी व्यवस्थाएं भी देखी।
प्रभारी मंत्री श्री परमार ने रात्रि विश्राम सर्किट हाऊस में ही किया। अगले दिन उन्हें 12 जनवरी, बुधवार को सुबह 9 बजे स्वामी विवेकानंदजी की जयंती पर जिला मुख्यालय झाबुआ पर उत्कृष्ट विद्यालय मैदान पर आयोजित होने वाले सूर्य नमस्कार समारोह में सहभागिता करनी थी, लेकिन प्रदेश में बढ़ते कोरोना केस को लेकर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा संपूर्ण प्रदेश में सामूहिक सूर्य नमस्कार कार्यक्रम पर रोक लगाए जाने से यह सामूहिक कार्यक्रम जिला प्रशासन ने ताबड़तोब निरस्त किया। दोपहर 11 बजे वह कलेक्ट्रोरेट सभा कक्ष में जिला आपदा प्रंबधन की बैठक के मुख्य अतिथि बतौर सम्मिलित हुए।
कोविड के नियमों का सख्ती से करवाया जाए पालन
जिसमें उपस्थित जनप्रतिनिधियों, भाजपा एवं कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारियों, विभिन्न सामाजिक, धार्मिक एवं व्यापारिक संस्थाओं के पदाधिकारियों तथा समाज प्रमुखों द्वारा दिए गए सुझाव बाद यह स्पष्ट किया कि जिले में कोरोना की तीसरी लहर से निटपने का कार्य आपसी समन्वय और संयुक्त प्रयासों से किया जाएगा। उन्हें ज्ञात हुआ है कि जिले में कोविड के नियमों, जिसमें मास्क की अनिवार्यता, सोशल डिस्टेनिंसग और दुकानों तथा शासकीय कार्यालयों पर सेनेटाईजर आदि का उपयोग नहीं होने से जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि जिले में कोविड के नियमों का सख्ती से प्रत्येक व्यक्ति से पालन करवाया जाए, जो लापरवाही बरतता है, उस पर जुर्माना भी लगाया जाए।
लॉकडाउन नहीं लगाने के साथ रोजगार को बढ़ावा देने की मुहीम चलाई जाएगी
साथ ही प्रभारी मंत्री श्री परमार ने यह स्पष्ट किया कि वर्तमान में लॉकडाउन लगाने जैसी परिस्थिति नहंी है। नाईट कफर्यू रात्रि 11 बजे से अलसुबह 5 बजे तक जारी रहने के साथ शादी-विवाह समारोह में 200 लोगों की उपस्थिति रहने एवं अंतिम संस्कार में 50 लोगांे के शामिल होने के जो निर्देश मप्र सरकार से पूर्व में जारी हुए है, उसका कड़ाई से पालन करना सुनिश्चित किया। प्रभारी मंत्री श्री परमार ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार पूरी तरह कोशिश कर रहीं है, ना तो प्रदेश में और ना हीं झाबुआ जिले में लॉकडाउन की स्थिति निर्मित होे। प्रदेश सरकार की व्यापारियों के हित में मंशा है कि रोजगार को अधिक से अधिक बढ़ावा दिया जाए। गरीब एवं मध्यम वर्ग का व्यवसाय बंद ना हो, वह अपना काम-धंधा और नौकरी निर्बाध रूप से कर सके, सरकार इस प्रयास की ओर आगे बढ़ रहीं है।
प्रदेश के मुख्यमंत्री का देखा लाईव प्रसारण
इसके बाद प्रभारी मंत्री श्री परमार यहां से सीधे स्थानीय शगुन गार्डन पहुंचे। जहां मुख्यमंत्री स्वरोगार योजना के तहत आयोजित कार्यक्रम एवं रोजगार मेले का शुभारंभ प्रभारी मंत्री श्री परमार ने विद्या और ज्ञान की देवी महा सरस्वतीजी की तस्वीर पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलन कर किया। यहां अपने उद्बोधन में प्रभारी मंत्री श्री परमार ने मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए मप्र सरकार की इस योजना को पूरे प्रदेश के बेरोजगार युवाओं के लिए कारगर बताया एवं कहा कि इससे युवाओं को रोजगार के अवसर पर प्राप्त होेंगे। साथ ही रोजगार मेले में सभी युवाओं को नौकरी मिलने से कोई भी हाथ खाली नही रहेगा।
संपूर्ण प्रदेश में 5 लाख पद भरे जाएंगे
प्रभारी मंत्री श्री परमार ने बताया कि पूरे प्रदेश में 5 लाख पद भरे जाना है। जिन पर भर्ती प्रक्रिया आरंभ हो चुकी है। बाद यहां सभी ने भोपाल में आयोजित होने वाले प्रदेश के मुख्यमंत्री के उद्बोधन का लाईव प्रसारण भी देखा। तत्पश्चात् स्व-रोजगार योजना के तहत पात्र हितग्राहियों को राशि के चैक भी प्रदान किए गए। यहां कार्यक्रम का संचालन उत्कृष्ट उमा विद्यालय झाबुआ के उच्च श्रेणी शिक्षक हरिश कुंडल ने किया। रोजगार मेले का भी प्रभारी मंत्री ने अवलोकन कर समस्त व्यवस्थाएं देखी।
करीब 55 करोड़ लागत की ब्रीज का किया शिलान्यास
यहां से प्रभारी मंत्री श्री परमार ने कुछ देर के लिए सर्किट हाऊस पहुंचकर लंच लेने के बाद स्थानीय रतनपुरा में शासकीय आदर्श महावि़द्यालय में संकल्प कोचिंग का शुभारंभ किया। तत्पश्चात् यहां से सीधे इंदौर-अहमदाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित अनास नदी पर पीडब्ल्यू विभाग द्वारा नव-निर्मित सेतु ब्रिज का लोकार्पण किया। जिसकी कुल लागत 553.59 लाख है। इंदौर-अहमदाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग को जोड़ने वाला यह ब्रिज करीब 150 मीटर लंबा एवं 12 मीटर चौड़ा है। इस ब्रीज का भी प्रभारी मंत्री ने शिलान्यस करने के साथ फीता काटकर लोकार्पण किया। बाद नारियल बदारकर पूजन की। इस दौरान यहां प्रभारी मंत्री श्री परमार का स्वागत पीडब्ल्यूडी के मुख्य अभियंता गिरजेश शर्मा, कांट्रेक्टर अजय मोदी एवं एसडीओ डीडी रतमेले ने पुष्प गुच्छ भेंटकर किया। बाद यहां से प्रभारी मंत्री द्वारा कल्याणपुरा पहुंचकर यहां नवीन कन्या छात्रावास भवन का लोकार्पण के बाद अंत में रायपुरिया में भी नवीन पुलिस थाने भवन को लोकार्पण करने के उपरांत उन्होंने यहां से भोपाल के लिए प्रस्थान किया।
भाजपा से यह रहे मौजूद
मप्र शासन के राज्यमंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री परमार के संपूर्ण कार्यक्रम में उनके साथ भाजपा से अजजा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कलसिंह भाबर, प्रदेश मंत्री संगीता सोनी, भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य ओमप्रकाश शर्मा, क्षेत्रीय सांसद गुमानसिंह डामोर, पूर्व विधायक झाबुआ शांतिलाल बिलवाल, पूर्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य दौलत भावसार, भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक, भाजपा जिला महामंत्री सोमसिंह सोलंकी एवं कृष्णपालासिंह गंगाखेड़ी, जिला उपाध्यक्ष सत्येन्द्र यादव, राजेन्द्र उपाध्याय एवं भानू भूरिया, जिला मंत्री विश्वनाथ सोनी, पूर्व भाजपा जिला उपाध्यक्ष अजय पोरवाल, जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर, भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य विजय चौहान, पिछड़ा वर्ग मोर्चा जिलाध्यक्ष सोनू विश्वकर्मा, मोर्चा जिला मंत्री हेमेन्द्र नाना राठौर, भाजयुमो जिलाध्यक्ष कुलदीपसिंह चौहान, भाजपा मंडल झाबुआ अध्यक्ष अंकुर पाठक, मंडल महामंत्री जुवानसिंह गुंडिया, मंडल के अन्य पदाधिकारियों में किशोर भाबोर, राजेश थापा, युवा नेता भूपेश सिंगोड़, कल्याणसिंह डामोर, रवि थापा आदि सहित बड़ी संख्या में अन्य पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता मौजूद रहे।
जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन से इनकी रहीं उपस्थिति
जिला प्रशासन से कलेक्टर सोमेश मिश्रा, अपर कलेक्टर जुवानसिंह बघेल, जिला पंचायत सीईओ सिद्धार्थ जैन, एसडीएम झाबुआ एलएल गर्ग, तहसीलदार झाबुआ आशीष राठौर, नगरपालिका सीएमओ एलएस डोडिया सहित विभिन्न विभागों के प्रमुख-प्रतिनिधि तथा पुलिस प्रशासन से पुलिस अधीक्षक आशुतोष गुप्ता, एएसपी आनंदसिंह वास्कले, एसडीओपी इडल मोर्य, थाना प्रभारी सुरेन्द्रसिंह गाडरिया आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: