विश्व हिंदू परिषद् (बजरंग दल) की प्रांत बैठक में कट्टर हिन्दू धर्म रक्षक आजाद प्रेमसिंह को बनाया गया संगठन के धर्म प्रसार विभाग का प्रमुख, जिले में जनजाति समाज के उत्थान और सर्वांिगण विकास के लिए लंबे समय से कर रहे है कार्य, दी गई शुभकामनाएं


झाबुआ। विश्व हिंदू परिषद् (बजरंग दल) की प्रांत बैठक रतलाम में संपन्न हुई। जिसमें विश्व हिंदू परिषद धर्म-प्रसार विभाग प्रमुख के दायित्व की घोषणा प्रांत मंत्री ने की। संगठन के विभाग संगठन मंत्री वासुदेव पंड्या की अनुसंशा पर इस पद पर झाबुआ जिले के ग्राम कोकावद निवासी आजाद प्रेमसिंह डामोर को मनोनयन किया गया।
ज्ञातव्य रहे कि आजाद प्रेमसिंह जिले के संत स्व. श्री खुमसिंह जी महाराज के सुपुत्र होकर पूर्व में भारतीय फौज में कार्यरत रह चुके है। अपने पिता के दिए हुए संस्कारों के अनुसार हिंदू संस्कृति को बचाने के कार्य से काफी प्रभावित होकर पिता की मृत्यु के बाद आजाद प्रेम सिंह ने अपने पिता के कार्य को आगे बढ़ाने एवं गति देने के लिए भारतीय सेना से इस्तीफा देकर सनातन धर्म संस्कृति की रक्षा एवं अवैध धर्मांतरण से जनजाति भाई-बहनों को बचाने तथा समाज में फैली कुप्रथा और बुराइयों को समाप्त करने के लिए जनजाति समाज को जागृत करने के कार्य को आगे बढ़ाने का निश्चय किया। संपूर्ण जिले में धर्म रक्षक के रूप में कार्य करने का निश्चय किया।
विभिन्न जिलों का देखेंगे कार्य
जिस तरह संत स्व. श्री खुमसिंह जी महाराज ने जनजाति समाज में फैली बुराइयों को दूर करने का कार्य किया। उसी को आगे बढ़ाते हुए वर्तमान में आजाद प्रेमसिंह कार्यरत है। आजाद प्रेम सिंह को विभाग प्रमुख का दायित्व दिए जाने के बाद अब वह रतलाम, जावरा एवं झाबुआ सहित अन्य जिलों का कार्य बतौर विभाग प्रमुख के रूप स देखेंगे। उनके इस मनोयन पर संगठन के समस्त पदाधिकारी-कार्यकर्ताओं के अलावा समाजजनों ने भी शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए हर्ष व्यक्त किया है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: