शासकीय आदर्श महाविद्यालय झाबुआ में राष्ट्रीय सेवा योजना के तहत जागरूकता कार्यक्रम का हुआ आयोजन, स्वस्थ बालक-बालिका विषय पर दिए गए व्याख्यान, कोरोना की तीसरी लहर से सुरक्षित रहने हेतु छात्र-छात्राओं को दी गई सलाह

एस.डी.न्युज लाईव झाबुआ से मनीष कुमट व दौलत गोलानी की रिपोर्ट


झाबुआ। शासकीय आदर्श महाविद्यालय झाबुआ में राष्ट्रीय सेवा योजना के तहत स्वस्थ बालक-बालिका स्पर्धा कार्यक्रम के तहत आयोजित जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें डॉ. मनीष चौधरी ने उक्त विषय पर व्याख्यान दिया।
 पश्चात् कोरोना की तीसरी लहर के बढ़ते प्रकोप से विद्यार्थी अपने आप को कैसे सुरक्षित रखें, मास्क की अनिवार्यता, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन एवं सेनिटाइजर का प्रयोग करते रहने की सलाह दी गई। तत्पश्चात् प्रो.केसरसिंह ठाकुर द्वारा वैक्सीनेशन के दोनों डोज की अनिवार्यता एवं महत्ता पर विशेष जोर दिया गया। डॉ. राकेश बघेल ने बताया कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मन का निवास होता है। यह कहते हुए विद्यार्थियों के जीवन में नित्य प्रतिदिन कैसे स्वस्थ रहें, विद्यार्थियों को इसकी जानकारी प्रदान की।
हिन्दी की महत्वता एवं उपयोगिता पर दिया बल
विश्व हिंदी दिवस के अवसर पर हिंदी के सहायक प्राध्यापक मुकेश बघेल ने हिंदी की महत्ता एवं उपयोगिता पर बल देते हुए वर्तमान जीवन में हिंदी आवश्यकता पर विचार व्यक्त किए। साथ ही महात्मा गांधी हैंडीक्राफ्ट संस्था  अहमदाबाद द्वारा वेस्ट मटेरियल से किस प्रकार साज-सज्जा की वस्तुएं निर्मित कर रोजगार के अवसर प्राप्त किए जा सकते है, इस पर विद्यार्थियों को जानकारी प्रदान की गई। उक्त कार्यक्रम की अध्यक्षता महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य डॉ. एससी जैन ने की। इस अवसर पर समस्त स्टॉफ एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: