Lunar Eclipse: 2024 का दूसरा चंद्र ग्रहण जानिए कब और कहां दिखेगा



Lunar Eclipse: चंद्र ग्रहण एक ऐसी खगोलीय घटना है जिसमें पृथ्वी सूर्य और चंद्रमा के बीच आ जाती है, जिससे चंद्रमा की रोशनी आंशिक या पूरी तरह से बंद हो जाती है. यह घटना खगोल विज्ञान के प्रति उत्साही लोगों और आम जनता के लिए समान रूप से एक आकर्षक दृश्य होती है. चंद्र ग्रहण एक अद्भुत खगोलीय घटना है जो हमें ब्रह्मांड की व्यापकता और इसकी जटिलताओं के बारे में जागरूक करती है. 2024 का चंद्र ग्रहण एक ऐसा अवसर है जिसे आप मिस नहीं करना चाहेंगे. इसे देखने के लिए तैयार रहें और इस अद्भुत नजारे का आनंद लें. चाहे आप इसे देखने में सक्षम हों या नहीं, चंद्र ग्रहण की जानकारी और इसकी वैज्ञानिक महत्ता को समझना एक रोमांचक अनुभव होगा.

तिथि और समय

साल 2024 का दूसरा चंद्र ग्रहण 18 सितंबर को लगेगा. भारतीय समयानुसार यह ग्रहण सुबह 6 बजकर 11 मिनट पर शुरू होगा और सुबह 10 बजकर 17 मिनट पर समाप्त होगा. यानी इस ग्रहण की कुल अवधि 4 घंटे 6 मिनट की होगी. यह ग्रहण सूर्योदय के समय होगा, 2024 का चंद्र ग्रहण एक आंशिक ग्रहण होगा, जिसका मतलब है कि चंद्रमा का केवल एक हिस्सा पृथ्वी की छाया में आएगा. आंशिक ग्रहण के दौरान चंद्रमा का कुछ भाग अंधकारमय हो जाता है जबकि बाकी भाग चमकता रहता है.

Also Read: Beauty Tips : ओपन पोर्स के कारण कम हो गई है खूबसूरती, नेचुरल मास्क देगा निखार

Advertisment 
--------------------------------------------------------------------------
क्या आप भी फोन कॉल पर ऑर्डर लेते हुए थक चुके हैं? अपने व्यापार को मैन्युअली संभालते हुए थक चुके हैं? आज के महंगाई भरे समय में आपको सस्ता स्टाफ और हेल्पर नहीं मिल रहा है। तो चिंता किस बात की?

अब आपके लिए आया है एक ऐसा समाधान जो आपके व्यापार को आसान बना सकता है।

समाधान:
अब आपके साथ एस डी एड्स एजेंसी जुडी है, जहाँ आप नवीनतम तकनीक के साथ एक साथ में काम कर सकते हैं। जैसे कि ऑनलाइन ऑर्डर प्राप्त करना, ऑनलाइन भुगतान प्राप्त करना, ऑनलाइन बिल जनरेट करना, ऑनलाइन लेबल जनरेट करना, ऑनलाइन इन्वेंट्री प्रबंधन करना, ऑनलाइन सीधे आपके नए आगमनों को सोशल मीडिया पर ऑटो पोस्ट करना, ऑनलाइन ही आपकी पूरी ब्रांडिंग करना। आपके स्टोर को ऑनलाइन करने से आपके गैर मौजूदगी के समय में भी लोग आपको आर्डर कर पाएंगे। आपका व्यापार आपके सोते समय भी रॉकेट की तरह दौड़ेगा। गूगल पर ब्रांडिंग मिलेगी, सोशल मीडिया पर ब्रांडिंग मिलेगी, और भी बहुत सारे फायदे मिलेंगे आपको! 🚀

ई-कॉमर्स प्लान:
मूल्य: 40,000 रुपये
50% छूट: 20,000 रुपये
ईएमआई भी उपलब्ध है
डाउन पेमेंट: 5,000 रुपये
10 ईएमआई में 1,500 रुपये
साथ ही विशेष गिफ्ट कूपन

अब आज ही बुकिंग कीजिए और न्यूज़ पोर्टल्स में विज्ञापन प्लेस करने के लिए आपको 10,000 रुपये का पूरा गिफ्ट कूपन दिया जा रहा है! इसे साल भर में हर महीने 10,000 रुपये के विज्ञापन की बुकिंग के लिए 10 महीने तक उपयोग कर सकते हैं।

अब तकनीकी की मदद से अपने व्यापार को नई ऊँचाइयों तक ले जाइए और अपने व्यापार को बढ़ावा दें! 🌐
अभी संपर्क करें - 📲8109913008 कॉल / व्हाट्सप्प और कॉल ☎️ 03369029420


 

Also Read: Personal And Professional life Tips: पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ में करें ये बदलाव, रहेंगे हमेशा खुश

Also Read: Beauty Tips: झुर्रियों से पाना चाहते हैं छुटकारा? आज ही डायट में शामिल करें ये फ्रूट्स

दृश्य

यह चंद्र ग्रहण एशिया के अधिकतर हिस्सों, यूरोप, अफ्रीका, नॉर्थ अमेरिका,साउथ,अमेरिका,प्रशांत,अटलांटिक,आर्कटिक, अंटार्कटिका और हिंद महासागर के सीमित क्षेत्रों में देखा जा सकेगा. भारत में यह ग्रहण कुछ पश्चिमी शहरों जैसे मुंबई में दिख सकता है, लेकिन ग्रहण शुरू होने के बाद चांद क्षितिज से नीचे चला जाएगा, जिससे इसे देख पाना मुश्किल हो जाएगा. इसलिए, भारत में इसकी दृश्यता की संभावना बहुत कम है.

Also Read: Beauty Tips : चेहरे पर कच्ची हल्दी लगानें से खत्म होंगे दाग, ब्यूटी रूटीन में ऐसे करें शामिल

खगोलीय महत्व

चंद्र ग्रहण खगोलीय दृष्टि से महत्वपूर्ण है क्योंकि यह पृथ्वी, सूर्य और चंद्रमा के बीच की जटिलताओं और गुरुत्वाकर्षण संबंधों को दर्शाता है. यह वैज्ञानिकों को इन संबंधों का अध्ययन करने का एक शानदार अवसर प्रदान करता है. इसके अलावा,चंद्र ग्रहण लोगों में खगोलीय घटनाओं के प्रति जागरूकता और रुचि बढ़ाने में मदद करता है. चंद्र ग्रहण को देखने के लिए किसी विशेष सुरक्षा उपाय की आवश्यकता नहीं होती, जैसे कि सूर्य ग्रहण के दौरान होती है. लोग इसे सीधे देख सकते हैं और तस्वीरें भी खींच सकते हैं. यह ग्रहण रात या भोर के समय होता है, इसलिए इसे देखना सुरक्षित है.



Source link


Discover more from सच्चा दोस्त न्यूज़

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours

Leave a Reply