दो करोड़ की जल जीवन मिशन योजना भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ी

अधिकारी एवं ठेकेदार की लापरवाही का खामियाजा भुगत रहे हैं ग्रामीण जनता

बोलासा-( मनीष कुमट) शासन द्वारा जल जीवन मिशन योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों की ग्राम पंचायतों में करोड़ों रुपए की लागत से बनने वाली नल -जल योजनाएं गंभीर अनियमितताओं के चलते घटिया निर्माण  किए जाने की वजह से योजनाएं बंद पड़ी है विभागीय अधिकारी एवं ठेकेदार की मिलीभगत से नल जल योजना भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई है इसका ज्वलंत उदाहरण ग्राम पंचायत पिठड़ी में शासन द्वारा 2 करोड रुपए के लगभग जल जीवन मिशन योजना लागू की गई यह योजना वर्ष 2021-22 के तहत ठेकेदार के माध्यम से क्रियान्वित की गई है जब इस योजना का  निर्माण कार्य चल रहा था तब विभाग के किसी भी अधिकारी ने गुणवत्ता की जांच नहीं की गई योजना का क्रियान्वयन कैसे किया जा रहा है ठेकेदार ने अपनी मनमर्जी के अनुसार ग्राम पंचायत पिठड़ी में नल जल योजना मे  पारदर्शिता के तहत कार्य किया जाना था लेकिन नहीं किया गया अब यह योजना ग्राम पंचायत के हैंड ओवर  कर दी गई है इस योजना का संचालन ग्राम पंचायत नहीं कर पा रही है इसकी मुख्य वजह यह है कि ग्राम पंचायत की आबादी 1500 सौ के लगभग हैं जिसमें 10 वार्ड हैं 7 वार्ड आदिवासी बाहुल्य है वर्तमान में 12 से 15 दिनों से जल प्रदाय व्यवस्था बंद है इसकी मुख्य वजह यह है कि पाइपलाइन जगह-जगह टूटकर लीकेज हो चुकी है 10 ऐसे चिन्हित स्थान है जहां पाइपलाइन पूरी तरह से डैमेज हो चुकी है पूरे गांव की जनता परेशान है जहां आदिवासी 7 वार्ड है वहां पांच जगह लाइन टूटने से लोगों को पानी नहीं मिल पा रहा है।

पानी के लिए बनाए गए स्टैंड भी टूट चुके है

ग्रामीणों का कहना है कि  स्टीमेट के मुताबिक ठेकेदार द्वारा यह कार्य नहीं किया गया है अधिकारियों की लापरवाही की खामियाजा यहां की जनता को भुगतना पड़ रहा है ठेकेदार द्वारा अलग से जल स्रोत की व्यवस्था नहीं की गई है पानी के लिए स्टैंड बनाए गए हैं टूट चुके हैं इस संबंध में दिनेश पाटीदार ने 181 समाधान ऑनलाइन पर शिकायत भी की गई है अब यह योजना दम तोड़ती नजर आ रही है भीषण गर्मी अभी शुरू नहीं हुई है इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि आने वाले  गर्मी  के दिनो में यहां की जनता की दशा क्या होगी  अधिकारी ठेकेदार  भ्रष्टाचार की वजह से दम तोड़ती नजर  आ रही है  यह आरोप यहां की जनता ने लगाए हैं  यहां की पंचायत को पानी सप्लाई के लिए पुरानी पाइप लाइन को दुरुस्त कर पानी खरीद कर जनता को दिया जा रहा है ग्रामीण जन लालचंद पाटीदार, कृष्णा पाटीदार, दिनेश पाटीदार, हीरालाल डोडियार, शंभू गामड़ ने कलेक्टर से जांच दल गठित करने की मांग की है  करोड़ों की योजनाएं  की उच्च स्तरीय जांच होना चाहिए है पानी के एक एक बूंद के लिए ग्रामीणों को तरसना पड़ रहा है।

जल जीवन मिशन योजना का क्या है उद्देश्य

शासन द्वारा जल जीवन स्कीम के माध्यम से सबसे अधिक ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले परिवारों को उन्हें पीने के लिए स्वच्छ जल की प्राप्ति के लिए दूरदराज के क्षेत्रों में मिलो पैदल का सफर करना पड़ता था लेकिन इस मिशन के तहत अब उन्हें घरेलू नल की सुविधा उपलब्ध करवाकर साफ एवं ताजे पानी को समय से प्राप्त कर सकते हैं इस जल जीवन मिशन का मुख्य लक्ष्य है कि सभी ग्रामीण घरों तक घरेलू कार्यशील नल कनेक्शन की व्यवस्था उपलब्ध करवाना नल कनेक्शन के साथ-साथ स्थानीय जल संस्थानों के प्रबंधन को बढ़ावा दिया जाए तथा प्रत्येक ग्रामीण घर में कार्यात्मक घरेलू नल कनेक्शन सुनिश्चित करेगा

सरपंच ने लगाया आरोप

ठेकेदार द्वारा पाइपलाइन की गहराई कम होने की वजह से 10 से 12 जगह लाइन टूट चुकी है पानी लीकेज हो रहा है 12 दिनों से पानी सप्लाई बंद है घटिया निर्माण होने की वजह से पूरी योजना बंद है कलेक्टर से जांच की मांग की है

सरपंच गोवर्धन निनामा ग्राम पंचायत पिठड़ी

हमने ग्राम पंचायत पिठड़ी में अपने हिसाब से काम किया है जो कार्य करना था वह हमने अच्छा किया है।

श्री   इंटरप्राइजेस वाला भाई ठेकेदार गुजरात ।

ठेकेदार द्वारा पिठड़ी पंचायत का कार्य पूरा कर दिया गया है उस कार्य में कोई त्रुटि या खामी है तो पंचायत  ठीक करवाएं यह योजना पंचायत के हैंड औवर कर दी गई है  भ्रष्टाचार के आरोप गलत हैं

टीसी बामनीया उपयंत्री लोक  स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग पेटलावद।

Leave a Reply

Must Read

%d bloggers like this: