RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

कनिष्ठ खाद्य अधिकारी ने राशन दुकान पर कार्रवाही नही करने के ऐवज मे मांगे पंद्रह हजार

इंदौर। लोकायुक्त पुलिस ने राशन दुकान पर किसी भी कार्रवाई नहीं करने के ऐवज में 15 हजार रुपये प्रति माह की रिश्वत की मांग करने वाले खाद्य विभाग के कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी धर्मेश शर्मा को रणनीति बनाकर सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। वह राजेन्द्र नगर स्थित अवासा रेसीडेंसी पर रिश्वत की पहली किश्त ले रहा था ।

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913

इसे भी पढ़े :युवक ने अपने ही गांव की नाबालिक 17वर्षीय लड़की से किया दुष्कर्म प्रकरण दर्ज

लोकायुक्त पुलिस के पास राजेन्द्र नगर एबी रोड स्थित आनंद नगर निवासी अमित कलसी ने कलेक्टर कार्यालय में स्थित खाद्य विभाग में पदस्थ धर्मेंद्र शर्मा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। अमित के अनुसार वह अहीर खेड़ी महिला सहकारी उपभोक्ता भंडार ग्राम बांक चंदन नगर इंदौर में शासकीय राशन दुकान में सेल्समैन है।

धर्मेंद्र ने अमित से राशन की दुकान के संचालन के दौरान किसी प्रकार के छापे या अन्य कार्रवाई नहीं करने के ऐवज में हर महीने 15 हजार रुपये की रिश्वत की मांग की थी। धर्मेंद्र ने साथ ही धमकी दी थी कि यदि वह प्रति माह 15 हजार रुपये की रिश्वत नहीं देता है तो वह राशन की दुकान में कई कमियां निकाल देगा और उसकी दुकान बंद करवा देगा।

इसके बाद अमित ने इस बात की शिकायत लोकायुक्त पुलिस को की थी। लोकायुक्त पुलिस ने रणनीति बनाते हुए •अमित से धर्मेंद्र की बातचीत रिकार्ड करने के लिए कहा। अमित ने बातचीत रिकार्ड कर दो नवंबर को रिकार्डिंग लोकायुक्त पुलिस को सौंप दी। पुलिस ने अमित को रिश्वत की पहली किश्त देने के लिए कहा। उसके सोमवार सुबह धर्मेंद्र को उसके आवासा लग्जरी रेसीडेंसी के बाहर निर्माणाधीन बगीचे में रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर लिया। उस पर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम (संशोधित) 2018 की धारा 7 के अंतर्गत कार्यवाही की जा रही है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: