सांड ने बुजुर्ग को किया गंभीर घायल, युवा चिकित्सक पाल ने बचाई जान

नागदा । शुक्रवार की सुबह नागदा के समीपस्थ ग्राम बनवाडा के एक 80 वर्षीय बुजुर्ग को गांव में ही एक सांड ने गंभीर रूप से घायल दिया। सांड ने बुजुर्ग के पेट में सींग घुसा कर उछाल दिया, जिसके चलते बुजुर्ग काफी गंभीर रूप से घायल हो गए थे, परिजन उन्हें तत्काल बिरलाग्राम स्थित इन्दुभाई पारिख मेमोरियल ट्रस्ट हॉस्पिटल लेकर पहुॅंचे जहॉं युवा चिकित्सक डॉ. जितेन्द्र पालसिंह ने तत्काल परिजनों की सहमती के बाद एक बडा ऑप्रेशन कर उनके जीवन को बचा लिया। बताया जाता है कि बुजुर्ग की हालत इतनी गंभीर थी कि यदि उन्हें उज्जैन भी रेफर कर दिया जाता तो उनका बचना काफी मुश्किल था।

क्या है मामला

मामले में प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार की सुबह ग्राम बनवाडा निवासी मांगीलाल पिता पन्नालालजी आयु 80 वर्ष खेत पर जाने के लिए निकले थे। वह गांव की गली से गुजर रहे थे उसी दौरान एक सांड ने उन्हें गंभीर रूप से घायल कर दिया। सांड ने बुजुर्ग को सिंग से हवा में उछाल दिया जिससे सींग उनके पेट में अंदर तक धस गए थे तथा बुजुर्ग की आंतें तक बाहर आ गई थी।

इसे भी पढ़े : त्योहारों को देखते हुए खाद्य पदार्थों की हो जांच

बुजुर्ग की गंभीर अवस्था को देखते हुए परिजन उन्हें तत्काल बिरलाग्राम स्थित इन्दुभाई पारिख मेमोरियल ट्रस्ट हॉस्पिटल पहुॅंचे जहॉं युवा चिकित्सक एवं सर्जन डॉ. जितेन्द्र पालसिंह ने बुजुर्ग का परीक्षण किया, तथा गंभीर अवस्था को देखते हुए परिजनों की सहमती के उपरांत स्वयं नागदा में ही ऑप्रेशन किए जाने का निर्णय लिया जिससे की 80 वर्षीय बुजुर्ग के जीवन को बचाया जा सके। परिजनों की सहमती के बाद डॉ. पाल ने बुजुर्ग का ऑप्रेशन प्रारंभ किया तथा कई घंटों की मेहनत के बाद उनकी जान को बचा लिया। सांड ने बुजुर्ग के पेट में काफी गहराई तक गंभीर जख्म कर दिया था। ऐसे में चिकित्सकों को बुजुर्ग व्यक्ति की जान बचाने में काफी मशक्कत करना पडी।

परिजनों ने माना चिकित्सक का आभार, समाजसेवियों ने किया स्वागत

गंभीर रूप से घायल बुजुर्ग मांगीलाल की जान बचाने वाले चिकित्सक डॉ. पाल का सभी परिजनों ने खुब धन्यवाद दिया। इस दौरान सभी परिजनों की आंखे तक भर आई थी। मांगीलाल के परिजनों का कहना था कि यदि वह उज्जैन भी ले जाने का प्रयास करते तो मांगीलालजी की जान नहीं बच पाती क्योंकि गांव में ही उनका काफी खून बह चुका था तथा पेट में गहरा घाव होने तथा आंत आदि भी बाहर आ जाने से उनकी स्थिति काफी गंभीर थी। डॉ. पाल द्वारा बुजुर्ग व्यक्ति की जान बचाने की जानकारी शहर के समाजसेवियों को लगते ही क्षत्रिय महासभा की पदाधिकारी श्रीमती हेतलता तोमर, बॉबी अवाना, प्रेस क्लब के सचिव दीपक चौहान द्वारा उनका पुष्पमाला पहना कर स्वागत भी किया।

बॉक्स
डॉ. कोष्ठा को दी जन्मदिवस की बधाई

इसी दौरान समाजसेवीयों द्वारा चिकित्सालय के वरिष्ठ चिकित्सक एवं एमडी मेडिसीन डॉ. हरीशंकर कोष्ठा का जन्मदिवस पर पुष्पमालाओं से स्वागत किया। इस अवसर पर श्रीमती तोमर, श्री अवाना एवं श्री चौहान मौजुद थे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: