लाखों के टायर की चोरी की वारदात का पुलिस ने किया खुलासा, गुजरात के निकले आरोपी

दुकान के सीसीटीवी फुटेज में दो युवक आइशर में से उतरकर दुकान में घुसते हुए दिखाई दिए

4-5 लाख रूपये के ट्रक, ट्रेक्टर एवं कार के टायर चोरी चले गए थे।

चोरी गए मोटर सायकल के 53, कार-जीप के 46, 2 ट्रक, 6 ट्रेक्टर के कुल 107 टायर जप्त किए ।

नागदा । 9 सितम्बर की रात्रि में स्टेट हाईवे 17 पर स्थित एक टायर की दुकान पर लाखों की चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपीयों को पकडने में नागदा पुलिस को सफलता मिली है। पुलिस ने इस बडी तथा अज्ञात व्यक्तियों द्वारा की गई घटना का खुलासा होने से क्षेत्र के व्यापारियों में पुलिस के प्रति विश्वास और भी पुख्ता हुआ है। वैसे बीते दिनों में पुलिस प्रशासन द्वारा कई अंधे कत्लों का खुलासा एवं बडी वारदाताओं का खुलासा किया है। मामले के खुलासे में सीएसपी मनोज रत्नाकर एवं थाना प्रभारी श्यामचन्द्र शर्मा एवं टीम की अहम भूमिका रही है।

क्या है मामला

मामले का खुलासा करते हुए सीएसपी श्री रत्नाकर, थाना प्रभारी श्री शर्मा ने बताया कि फरियादी विजय पिता अमृलाल संघवी निवासी गांधीग्राम कॉलोनी नागदा ने रिर्पोट दर्ज करवाई कि बायपास पर ग्राम रतन्याखेडी चौराहे पर नवकार टॉयर एण्ड लुब्रिकेन्ट के नाम से दुकान है। 9 सितम्बर की रात्रि को दुकान पर ताला लगाकर गया था अगले दिन सुबह जब दुकान पर पहुॅंचा तो दुकान के ताले टुटे हुए थे तथा 4-5 लाख रूपये के ट्रक, ट्रेक्टर एवं कार के टायर चोरी चले गए थे। मामले में मण्डी थाने पर अपराध क्र. 702/21 धारा 457, 380 भादवि में प्रकरण पंजीबद्ध किया गया था।

इसे भी पढ़े : अवैध संबधों ने ले ली युवक की जान अमलतास के सुपरवाइजर ने दी थी सुपारी

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि एसपी सत्येन्द्र कुमार शुक्ल, एएसपी आकाश भूरिया व सीएसपी श्री रत्नाकर के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी नागदा द्वारा टीम गठित कर एक टीम तत्काल फरियादी की एजेंसी में लगे सीसीटीवी कैमरे देखने तथा पर एक आइशर ट्रक रात्रि 1 बजे दुकान के आसपास देखी गई, दुकान के सीसीटीवी फुटेज में दो युवक आइशर में से उतरकर दुकान में घुसते हुए दिखाई दिए तथा युवकों ने दुकान के बाहर लगी लाईट को पत्थर से तोड कर दुकान के तालों को चटका कर टायर आदि चोरी किए तथा जावरा की तरफ भाग गऐ। पुलिस द्वारा शहर के अन्य स्थानों पर भी सीसीटीवी फुटेज की जांच करने पर पाया कि आयशर ट्रक जावरा की और गया है।

नागदा पुलिस द्वारा दिनरात मेहनत करते हुए शहर के बाहर जावरा रोड पर सभी होटल ढाबों में लगे सीसीटीवी फुटेज बहूुत ही बारीकी व धैर्यपूर्वक देखे, जिसके परिणाम स्वरूप महाकाली ढाबा बिरियाखेडी के सीसीटीवी में घटनास्थाल पर आये चोरों का आइशर ट्रक जावरा की तरफ से आकर ढाबे के एक कोने में जाकर खडा हुआ और कुछ देर बाद उसमें से अलग-अलग चार लोग उतरते हुए ढाबे में आये और खाना खाया, सीसीटीवी कैमरा में चारों के चेहरे व हुलिया स्पष्ट दिखाई दे रहा था। चोरों की जानकारी लगते ही पुलिस द्वारा नागदा, उज्जैन, ताल, आलोट, जावरा, रतलाम, मंदसौर, नीमच, देवास में विश्वसनीय मुखबिरों से चर्चा कर सीसीटीवी फुटेज में आये संदिग्धों के फुटेज भेज कर तलाश हेतु लगाया गया। मुखबिरों को वारदात की जानकारी देने पर पता चला कि इस प्रकार की घटना गुजरात के चोरों द्वारा अंजाम दी जाती है।

विभिन्न स्थानों पर टीम ने की आरोपीयों की तलाश

संदेही आरोपीयों की तलाश हेतु रतलाम, बडावदा व जावरा में पुलिस टीम को भेजा गया, जहॉं विभिन्न स्थानों पर आरोपीयों की जानकारी ली गई। मुखबिरों ने सीसीटीवी फुटेज देखने के बाद तस्दीक किया कि उक्त आरोपीयों में पतला सा लडका शेख शहनवाज उर्फ यूपी पिता युनुस शेख सैय्यद तथा सफेद चेक शर्ट पहने हल्का लंगडा चलता व्यक्ति इरफान उर्फ शत्रु निवासी गोधरा है तथा काली शर्ट पहने वयक्ति मोहम्मद अली उर्फ मुस्ताक अली सैय्यद निवासी गोधरा तथा सफेद शर्ट पहने सांवला सा व्यक्ति अरबाज मंसुरी हैं जो चोरी किए गए माल का सौदा करते हैं।

पुलिस को ज्ञात हुआ कि इस प्रकार उक्त गैंग द्वारा थाना पल्सुद जिला बडवानी में टायर चोरी की है, जिला बडवानी के थाना पल्सुद से संपर्क करने जानकारी ली गई तो वहॉं माह अगस्त में आइशर ट्रक से आये चोरों ने टार चोरी कर ले गए जिसमें पल्सुद की पुलिस द्वारा उवेश हुसैन पिता अब्दुल रउफ निवासी जहुजपुरा सब्जी मन्डी गोधरा को गिरफ्तार किया था जो कि जमानत पर बाहर था। सीसीटीवी फुटेज देखने पर क्लीयर हो गया कि चोरी करने वाली गैंग वही है। वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में पुलिस टीम गोधरा भेजी गई।

6 अक्टूबर को पुलिस टीम आरोपीयों की तलाश हेतु गोधरा रवाना हुई। गोधरा पहुॅंच कर संदेही आरोपी की तलाश हेतु थाना बी डिविजन गोधरा में संपर्क कर लोकल पुलिस की मददलेकर संदेही आरोपीयों की तलाश करते रहे, लेकिन आरोपी नहीं मिले, लगातार गोपनीय निगाह रखते हुए आरोपी के मोहल्ले में सिविल में टीम मुखबिर लगे रहे। 9 अक्टूबर को संदेही आरोपी उवैश हुसैन के आने की सूचना लगते ही नागदा पुलिस ने अभिरक्षा में लेकर क्राईम ब्रांच ऑफिस गोधरा लाकर पुछताछ करते हुए जुर्म स्वीकार करने पर आरोपी उवैश हुसैन जाति घासी मुसलमान उम्र 21 साल निवासी जहुरपुरा जामा मस्जिद के पिछे वाली गली को गिरफ्तार किया गया तथा 10 अक्टूबर को न्यायालय में पेश कर पुलिस रिमांड लिया गया जो 18 तक का न्यायालय द्वारा स्वीकृत किया गया था।

इसे भी पढ़े : ओ माय गाँड 2 की शूटिंग उज्जैन में होगी

मोबाईल को फ्लाईट मोड पर रखकर देते थे वारदात को अंजाम

पुलिस अधिकारियो ंने बताया कि बाद गिरफ्तारी पुछताछ करने पर आरोपी गुमराह करता रहा, लेकिन सख्ती से पुछताछ करने पर पुलिस वारदात को किस तरह अंजाम दिया का खुलासा किया। आरोपी ने बताया कि 8 सितंबर को गोधरा में सभी लोगों ने मोबाईल से बात कर एकत्रित हुए और नागदा क्षेत्र में चोरी की योजना बनाई जिसमें योजना के मुताबिक अपने-अपने मोबाईल को फ्लाईट मोड पर रखकर व्हाट्सएप के माध्यम से बातचीत करने की हिदायत दी गई।

आरोपी उवैश हुसैन गोधरा में रूका और पॉंच लोग आइशर क्र. जीजे05 एजेड 2506 लेकर बदनावर, बडावदा होते हुए नागदा पहुॅंचे तथा 9 तारीख को टायर दुकान की रैकी की तथा रात्रि 12 बजे बाद वारदात को अंजाम दिया तथा भाग गए। गोधरा में टायर उतारे गए तथा चार टायर लेकर आइशर अहमदाबाद की और चली गई। पुलिस द्वारा आरोपीयों की निशानदेही पर चोरी गए मोटर सायकल के 53, कार-जीप के 46, 2 ट्रक, 6 ट्रेक्टर के कुल 107 टायर जप्त किए है।

यह हैं आरोपी

पुलिस ने उवेश हुसैन पिता अब्दुल रउफ समोल जाति घासी उम्र 21 साल निवासी जहुरपुरा जामा मस्जिद के पीछे वाली गली थाना बी डीवीजन गोधरा को गिरफ्तार किया है। वारदात को अंजाम देने वाले 6 आरोपी अभी भी फरार है सिमें शेख शहनवाज, इरफान, सुलेमान, मोहम्मद अली, अरबाज मंसुरी, मुश्ताक सभी निवासी गोधरा अभी भी फरार है।

इनकी रही सराहनिय भूमिका

आरोपीयों की धरपकड एवं माल की बरामदगी में एएसपी श्री भूरिया, सीएसपी श्री रत्नाकर, टीआई श्री शर्मा के अलावा उनि राजेश कलमी, सउनि सुरेश सोनगरा, प्र.आ. दिनेश गुर्जर, आरक्षक ईश्वर परिहार, मनोहर मोहरी, हरिओम, प्र.आ. सुनील बैस, सोमसिंह, आरक्षक सुखदेव, के अलावा सायबर सेल के उनि प्रतिक यादव, प्र.आर. राजपालसिंह, प्रेमसिंह की भूमिका सराहनिय रही।

Leave a Reply

%d bloggers like this: