शोध को बढ़ावा देना हमारी प्राथमिकता होना चाहिये- कुलपति प्रो. पांडेय

माधव कॉलेज में कुलपति का हुआ सारस्वत सम्मान

उज्जैन। विक्रम विश्वविद्यालय ने कृषि पाठ्यक्रम लागू कर प्रदेश में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। विक्रम विवि में 205 पाठ्यक्रमों के अध्ययन अध्यापन को प्रभावशील बनाया गया है। विश्वविद्यालय और कॉलेजों के समन्वय से हम नए कीर्तिमान स्थापित करने जा रहे हैं। शोध को बढ़ावा देना हमारी प्राथमिकता होना चाहिये। मालवा क्षेत्र का नाम शिक्षा और संस्कृति के लिए पहचान बनाने का कार्य हम करने जा रहे हैं। हम शीघ्र ही मालवा शोध पीठ की स्थापना करेंगे।

यह उद्गार विक्रम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. अखिलेशकुमार पांडेय ने माधव कॉलेज में अपने सारस्वत सम्मान के प्रति उत्तर में व्यक्त किये। कार्यक्रम में रानी दुर्गावती विवि जबलपुर के प्रो. लोकेश श्रीवास्तव ने संबोधित करते हुए कहा कि प्रो. पांडेय का पर्यावरण के क्षेत्र में विशेष शोध किया है। प्राचार्य डॉ. जवाहरलाल बरर्मया ने कहा कि कुलपति ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के निर्माण एवं क्रियान्वयन में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

इसे भी पढ़े : माथे पर टीका, आंखों मे सुरमा, गले में गमझा सोशल मीडिया पर सक्रिय

हम उनका सम्मान कर स्वयं को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। संचालन डॉ. जफर महमूद ने किया एवं आभार भूगोल विभाग के अध्यक्ष डॉ. विक्रम वर्मा ने माना। सरस्वती वंदना डॉ. नलिनी तिलकर ने प्रस्तुत की। अतिथियों का स्वागत शिक्षक संघ अध्यक्ष डॉ. रवि मिश्रा, डॉ. आरआर गोरास्या, एनसीसी अधिकारी डॉ. मोहन निमोले आदि ने किया।

Leave a Reply

%d bloggers like this: