RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

नगर निगम की छिड़काब दवा का मच्छरों पर नही असर

राजधानी भोपाल में मच्छरो का हमला

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913

नगर निगम की मच्छर मारने बाली दवा भी संदिग्ध

जिम्मेदार अधिकारी जबाब देने में असमर्थ

भोपाल : बरसात के बाद अचानक राजधानी भोपाल सहित आसपास मच्छरो का प्रकोप तेजी से फेल रहा है अभी भोपाल सहित आसपास की जनता कोरोना के दर्द से उभर भी नही पाई थी की मच्छरो की बढ़ती तादाद ने आम जनता का जीना हराम कर दिया है हालात ऐसे हो गए है कि अगर प्रशासन ने जल्द ही इन मच्छरों पर कंट्रोल नही किया तो यह ड़ेंगू के रूप में तेजी से फेल जाएगा और प्रशासन सिर्फ लकीर पीटती रह जाएगी ।

इसे भी पढ़े : चेन झपटने के बाद अपनी शर्ट बदल लेते थे आरोपी

क्यो बढ़ रहे है मच्छर

मच्छरों के बड़ी संख्या में बढ़ने के पीछे नगर निगम की बड़ी लापरवाही है क्योंकि नगर निगम के पास सिर्फ कागजों में काम करने बाला  अमला है लेकिन हकीकत में यह पूरा स्टाफ नजर नही आता और सफाई पर असर पड़ता है जिससे मच्छर तेजी से बढ़ रहे है  ओर नगर निगम प्रशासन मच्छर मारने की दवा छिड़क रहा है उसकी क्वालिटी ठीक ना होने से मच्छर नही मर रहे है ।

सिर्फ नगर निगम की गाड़ियां सरकारी डीजल बर्बाद कर रही है और धुंआ उड़ाने के नाम पर जनता की जान से खिलवाड़ कर रही है क्योंकि इस धुंआ उड़ाने बाली गाड़ी के धुएं मे दवा ठीक नही है इसलिए मच्छर मर नही रहे वार्ड26 नीलबड़ में जब मच्छर मारने की गाड़ी पहुची तो दबा का छिड़काब तो हुआ ।

लेकिन मच्छर नही मरे लेकिन जब इस बारे में निगम अधिकारी से पूछा गया तो उनका मौन रहना ही जबाब दे गया की अगर नगर निगम के जिम्मेदार अधिकारी दवा छिड़काब की क्वालिटी पर ध्यादे तो मच्छर तो खत्म होगे ही साथ ही तेजी से फैलने बाली ड़ेंगू जैसी बीमारी को फैलने से रोकने में भी मदद मिलेगी।

Leave a Reply

%d bloggers like this: