चेन झपटने के बाद अपनी शर्ट बदल लेते थे आरोपी

इंदौर से आकर उज्जैन में करते थे बारदात 

आरोपियों के कब्जे से पुलिस ने अब तक 7 से ज्यादा चेन जब्त कर ली

पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 3 बाइकें जब्त की

उज्जैन। पिछले दो माह के दौरान हुई चेन स्नेचिंग की वारदातों में शामिल 4 बदमाशों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है जिनमें तीन इंदौर के तथा एक उज्जैन का युवक शामिल है। पुलिस ने पूछताछ के दौरान उनके पास से 6 से अधिक सोने की चेन जब्त कर ली हैं। आरोपी वारदात कर बाईक से फरार होते और सूने स्थान पर अपने शर्ट बदल लेते थे जिससे उनको पहचानना मुश्किल हो रहा था।पुलिस कंट्रोल रूम पर आयोजित पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए एसपी सतेन्द्र शुक्ला ने बताया कि पिछले दो माह से सेठीनगर, लक्ष्मीनगर और पुलिस कंट्रोल रूम क्षेत्र में चेन स्नैचिंग की लगभग एक दर्जन वारदातों के बाद पुलिस बदमाशों की तलाश में लगी हुई थी और वारदात होने वाली जगहों के सीसीटीवी फुटेज चेक किए लेकिन बदमाशों का सुराग नहीं मिला।

इसे भी पढ़े : खरगोन पुलिस द्वारा अंधे कत्ल का पर्दाफाश।

कुछ जगहों पर सीसीटीवी कैमरों के फुटेज में बाईक नंबर नजर आए और इस आधार पर पुलिस ने पता लगाया तो उक्त बाईक इंदौर के नंदानगर क्षेत्र की निकली। इस आधार पर पुलिस टीम ने नंदा नगर इंदौर में दबिश दो और वहाँ से सूरज, शशांक को हिरासत में लिया और उनकी निशानदेही पर इंदौर से ही सन्नी नामक बदमाश को पकड़कर उज्जैन ले आए।

थाने पर पूछताछ में पकड़ाए तीनों बदमाशों ने बताया कि वे पंवासा निवासी अपने दोस्त ईश्वर की मदद से यहाँ वारदात करने आते थे और पिछले दो महीनों के दौरान उन्होंने एक दर्जन वारदात की है। पिछले एक सप्ताह में आरोपियों ने सेठीनगर, लक्ष्मीनगर क्षेत्र में तीन वारदातें कर डाली थीं और इन वारदातों के बाद पुलिस उनके पीछे लग गई थी। पुलिस ने बताया कि इंदौर से पकड़ाया एक आरोपी सूरज नंदानगर क्षेत्र का हिस्ट्रीशीटर बदमाश है। आरोपियों के कब्जे से पुलिस ने अब तक 7 से ज्यादा चेन जब्त कर ली हैं जिनकी कीमत 14 लाख से अधिक बताई जा रही है। सूरज का रिश्तेदार हीरामिल की चाल में रहता है तथा वह यहाँ आकर उसकी बाईक भी वारदात में इस्तेमाल करता था। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 3 बाइकें जब्त की हैं।

इसे भी पढ़े : अस्पताल के पुराने भवन को जमींदोज करने हेतु जारी हुआ टेण्डर, जल्द ही निर्माण होगा प्रारंभ

आरोपियों ने बताया कि वे वारदात के बाद सीधे इंदौर की ओर भाग जाते थे और बचने के लिए सूने स्थान पर रुककर अपने शर्ट बदल लेते जिससे उन्हें कोई पहचान नहीं पाता था। आरोपियों का एक और साथी इंदौर निवासी अभी फरार है जिसकी तलाश की जा रही है।ज्ञात रहे कि सेठी नगर निवासी सुशीला कासलीवाल और निजातपुरा निवासी श्रुति शर्मा की चेन झपटने के बाद चेनस्नेचर भाग गए थे पुलिस ने नाकाबंदी भी की थी लेकिन झपटमारों को पकड़ने में सफलता नहीं मिली थी पुलिस ने सभी चैन बरामद कर ली है अब असली मालिकों को पहचान करवाने के बाद चैन लौटाई जाएगी।

Leave a Reply

%d bloggers like this: