RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

कहां गई मानवता और कहां है धर्म

शास्त्री नगर में गाय अपने जीवन की रक्षा के लिए कर रही जिम्मेदारों का इंतजार

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913

उज्जैन। शहर के शास्त्री नगर क्षेत्र की एक गली में असहाय बीमार और घायल गाय अपने जीवन की रक्षा के लिए उन धार्मिक संगठनों और उससे जुड़े जिम्मेदारों का इंतजार कर रही है जो उसके नाम से शहर भर में राजनीतिक झंडा उठाए अमूमन नजर आते हैं। शनिवार सुबह से यह गाय अपने आप को जीवित रखने के लिए भूखे आवारा कुत्तों से खुद की रक्षा कर रही है लेकिन यहां कोई उसकी रक्षा के लिए नहीं आ रहा यहां के रहवासियों ने नगर निगम को भी फोन लगाकर सूचना दी

इसे भी पढ़े :नियमित जलापूर्ति नही होने आमजन परेशान

लेकिन यहां से भी कोई जवाब नहीं मिला बाद में जवाब आया कि इसकी जिम्मेदारी हमारी नहीं।शहर में कई ऐसे संगठन है जो गौ माता के लिए बड़े-बड़े दावे भरते हैं और कभी माता तो कभी मां के नाम से संबोधित कर इसके नाम से शहर भर में राजनीतिक झंडा उठाए नजर आते हैं। जब एक लाचार निस्सहाय घायल गाय को इनकी जरूरत पड़ी तो यहां एक नजर नहीं आ रहा वही जिम्मेदार विभाग नगर निगम में इसकी शिकायत की गई तो यहां से जवाब मिलता है कि आसपास निजी गौशाला है

उसमें इसे छुड़ाने के लिए गाड़ी भेज सकते हैं लेकिन इसे नगर निगम की गौशाला नहीं ले जाया जा सकता लोगों ने उनसे उपचार कराने की भी बात कही तो यहां से जवाब मिला कि निजी गौशालाओं में डॉक्टर आते हैं वही उसे उपचार दे सकते हैं 2 साल से नगर निगम में यह कार्य बंद कर दिया है। अधिकारी से एक सज्जन की बातों का ऑडियो भी जारी सोशल मीडिया पर हुआ जिसमें निगम के अधिकारी द्वारा उक्त बातें कही गई। खैर इन बातों से किसी को कोई सरोकार नहीं लेकिन एक मुख जानवर अपने जीवन की रक्षा के लिए मानव जाति से गुहार लगा रही है कि कोई उसे उपचार के लिए अस्पताल ले जाए और उसका जीवन बचा ले।

Leave a Reply

%d bloggers like this: