रावण का दहन करने निकली रामजी की सेना, आतिशबाजी के साथ हुआ 71 फीट ऊंचे रावण का दहन

– रामजी की शोभायात्रा निकाली गई।

– स्टेडियम ग्राउंड में मंच का लोकार्पण करते विधायक कराड़ा सहित अन्य।

– श्रीराम से युद्ध के बाद हुआ रावण का दहन।

्शाजापुर। स्थानीय श्रीकृष्ण व्यायाम शाला से भगवान राम की सेना शोभायात्रा के रूप में शुक्रवार शाम को रावण का दहन करने के लिए रवाना हुई। शोभायात्रा में भगवान् राम, लक्ष्मण, वीर हनुमान और शिवजी रथ पर आसीन थे। शोभायात्रा में नगर के दशहरा उत्सव समिति के सदस्यों के साथ-साथ गणमान्य नागरिक भी मौजूद थे।

शोभायात्रा की शुरूआत से पहले सांसद महेंद्रसिंह सोलंकी, कलेक्टर दिनेश जैन, पुलिस अधीक्षक पंकज श्रीवास्तव, भाजपा जिलाध्यक्ष अंबाराम कराड़ा सहित अन्य अतिथियों द्वारा श्रीकृष्ण व्यायाम शाला स्थित हनुमान मंदिर में महाआरती की गई। इसके बाद शोभायात्रा नगर के किला रोड़, छोटा चौक, आजाद चौक, सोमवारिया बाजार, मगरिया चौराहा, काछीवाड़ा, बस स्टैंड, एबी रोड़, दुपाड़ा रोड़ से होते हुए स्टेडियम ग्राउंड पर पहुंची, जहां रावण दहन के पूर्व भव्य आतिशबाजी की गई।

इसे भी पढ़े :नियमित जलापूर्ति नही होने आमजन परेशान

इसके बाद भगवान् राम के रूप में सजे कलाकार और अन्य अतिथियों द्वारा शमी के पेड़ की पूजा की गई और इसके बाद बुराई के प्रतीक रावण के पुतले का दहन किया गया। रावण दहन को देखने के लिए नगर के हजारों लोग स्टेडियम ग्राउंड पर मौजूद थे। शोभायात्रा में दिलीप भंवर, वीरेंद्र व्यास, महेश भावसार, तुलसीराम भावसार आदि सहित पदाधिकारी उपस्थित थे।

71 फीट ऊंचे रावण का हुआ दहन

हिंदू उत्सव समिति द्वारा इस वर्ष भी 71 फीट ऊंचे रावण के पुतले का निर्माण कराया गया था। वहीं इस बार भगवान श्रीराम का पुतला भी बनाया गया था जिसके माध्यम से स्टेडियम ग्राउंड पर श्रीराम और रावण का युद्ध हुआ। इसके पश्चात विधि-विधान के साथ स्थानीय स्टेडियम ग्राउंड पर रात के समय आतिशबाजी के साथ अहंकार के प्रतीक रावण का दहन किया गया। रावण दहन के पूर्व कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक हुकुमसिंह कराड़ा ने मंच का लोकार्पण किया। इस दौरान अतिथि का साफा बांधकर सम्मान किया गया।

Leave a Reply

%d bloggers like this: