शनिवार नानाखेड़ा पर रावण दहन हुआ

लोगों का आना प्रतिबंधित फिर भी रावण को बैरिकेडिंग से सुरक्षित किया

उज्जैन। शनिवार को शाम नानाखेड़ा स्टेडियम में रावण दहन हुआ। इसबार फिर महाबली रावण कोरोना महामारी के सामने अपने घुटने टेकता नजर आया। कारण इस वर्ष भी नानाखेड़ा स्टेडियम में प्रतीकात्मक रूप से शनिवार शाम को रावण दहन किया गया। इस बार रावण बाहुबली के रूप में बनाया गया था।समिति के संयोजक अभिषेकसिंह सिसौदिया ने बताया कि नानाखेड़ा दशहरा महोत्सव समिति द्वारा प्रतिवर्ष 100 फीट उंचे रावण के पुतले का दहन रंगारंग आतिशबाजी के साथ किया जाता रहा है।

इसे भी पढ़े :रेल्वें सुरक्षा समिति की बैठक सम्पन्न

लेकिन कोरोना महामारी के कारण कोविड 19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए रावण दहन किया गया। लगातार दूसरे वर्ष कोविड के कारण रावण का आकार छोटा और आयोजन प्रतीकात्मक करना पड़ रहा है।कलाकार जयराम परमार, सतीश सोलंकी और जितेन्द्र बोड़ाना द्वारा रावण तैयार किया गया।

समिति के अध्यक्ष डॉ. प्रकाश रघुवंशी, समिति के सचिव तरूण ने बताया कि शनिवार शाम रावण दहन के लोगों का आना प्रतिबंधित है, फिर भी रावण के आसपास के क्षेत्र को बेरिकेडिंग लगाकर सुरक्षित किया गया था। यहां आने वालों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने और मास्क पहनने की अपील पूरे समय जसरी थी।

Leave a Reply

%d bloggers like this: