वडोदरा एवं झांसी के बीच घोषित सुपरफास्ट स्पेशल ट्रेन अब ग्वालियर स्टेशन तक ही चलेगी

विशेष ट्रेन की संरचना में भी संशोधन

पिछली अधिसूचना के अनुसार पश्चिम रेलवे द्वारा 23 अक्टूबर, 2021 से वडोदरा और झांसी के बीच एक सुपरफास्ट स्पेशल ट्रेन के 12 फेरे चलाने का निर्णय लिया गया था, लेकिन इस सम्बंध में अब जारी संशोधित अधिसूचना के अनुसार ट्रेन नंबर 09177/78 वडोदरा – झांसी सुपरफास्ट स्पेशल (साप्ताहिक) को अब ग्वालियर स्‍टेशन तक ही चलाने का फैसला लिया गया है। तदनुरूप अब यह ट्रेन झांसी के बजाय ग्वालियर स्‍टेशन से शुरू एवं समाप्त होगी। इसी क्रम में ट्रेन के प्रस्थान/आगमन के समय में भी बदलाव किया गया है।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री सुमित ठाकुर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, यह ट्रेन संशोधित संरचना के साथ चलेगी, जिसमें एसी 2 टियर, एसी 3 टियर, स्लीपर क्लास और सेकेंड क्लास सीटिंग कोच शामिल हैं। विशेष ट्रेन का संशोधित परिचालन विवरण इस प्रकार है:-

इसे भी पढ़े : माननीया रेल राज्य मंत्री द्वारा सूरत स्टेशन पर विभिन्न सुविधाओं का उद्घाटन

ट्रेन संख्या 09177/09178 वडोदरा – ग्वालियर सुपरफास्ट स्पेशल (साप्ताहिक) [12 फेरे]

ट्रेन संख्या 09177 वडोदरा – ग्वालियर विशेष प्रत्येक शनिवार को वडोदरा से 09.15 बजे प्रस्थान कर अगले दिन 02.20 बजे ग्‍वालियर पहुंचेगी।

यह ट्रेन 23 अक्टूबर, 2021 से 27 नवंबर, 2021 तक चलेगी।

इसी तरह ट्रेन नंबर 09178 ग्वालियर – वडोदरा स्पेशल प्रत्येक रविवार को ग्‍वालियर से 05.10 बजे प्रस्थान करेगी और उसी दिन 22.20 बजे वडोदरा पहुंचेगी।

यह ट्रेन 24 अक्टूबर, 2021 से 28 नवंबर, 2021 तक चलेगी।

यह ट्रेन रास्ते में दोनों दिशाओं में गोधरा, दाहोद, रतलाम, नागदा, कोटा, सवाई माधोपुर, गंगापुर सिटी, हिंडौन सिटी, बयाना जंक्शन और आगरा कैंट स्टेशनों पर रुकेगी।

ट्रेन संख्या 09177 की बुकिंग 15 अक्‍टूबर, 2021 से पीआरएस काउंटरों और आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर शुरू होगी। स्‍पेशल ट्रेनों के परिचालन समय, ठहराव और संरचना से सम्बंधित विस्तृत जानकारी के लिए यात्री www.enquiry.indianrail.gov.in पर जाकर अवलोकन कर सकते हैं। उल्लेखनीय है कि इन स्‍पेशल ट्रेनों में कन्फर्म टिकट वाले यात्रियों को ही यात्रा की अनुमति होगी। पश्चिम रेलवे द्वारा यात्रियों को बोर्डिंग, यात्रा और गंतव्य के दौरान कोविड-19 से सम्बंधित सभी मानदंडों तथा एसओपी का पालन करने का अनुरोध किया गया है।

प्रतीकात्मक चित्र

Leave a Reply

%d bloggers like this: