मां दुर्गा की आराधना से भक्तिमय हुआ पूरा शहर, पूजा पंडालों में दर्शन को उमड़ी भीड़

बाजारों में बढ़ी चहल-पहल

हवन की पूर्णाहुति के साथ नवरात्र का हुआ समापन

गया। देवी उपासना का महापर्व नवरात्र के अंतिम दिन महानवमी को सिद्धिदात्री देवी की पूरी विधि विधान से पूजा अर्चना की गई।आस्था और भक्ति के महापर्व शारदीय नवरात्र के महा अष्टमी को पूजा पंडालों में विराजमान देवी दुर्गा के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। शहर के केदारनाथ मार्केट, हाते गोदाम, स्टेशन रोड, टेकारी दुःखहरनी रोड, बजाजा रोड, रमुना रोड, चौक रोड, दुर्गा बाड़ी सहित कई अन्य मार्गों पर माता की प्रतिमा स्थापित की गई है।

इसे भी पढ़े : कोरोना का कद क्या बढ़ा, बौने होने लगे धार्मिक आयोजन और हिंदू पर्व

पंडालों में या देवी सर्वभूतेषु मातृ रूपेण संस्थिता नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः की गूंज सुनाई पड़ी। शारदीय नवरात्र के अवसर पर शहर के मंदिरों एवं घरों में कलश स्थापित कर दुर्गा सप्तशती,देवी पुराण, रामायण पाठ की पूर्णाहुति के साथ 9 दिनों तक चलने वाला नवरात्र का आज समापन हो गया।चारों तरफ देवी गीतों की स्वर सुनाई पड़ रही है। जिससे पूरा शहर भक्तिमय हो चला है। शक्ति स्वरूपा मां दुर्गा के उपासक पूरी श्रद्धा के साथ भगवती की आराधना मे तल्लीन है। गुरुवार को सिद्धिदात्री की पूजा आराधना विधि विधान से की गई।

मंदिरों से लेकर घरों तक देवी मंत्रों की गूंज सुनाई पड़ रही है। पूरा शहर मां दुर्गा की आराधना में भक्तिमय हो गया है। दुःखहरनी मंदिर में बृहस्पतिवार को श्रद्धालुओं की अपार भीड़ देखी गई। जहां मंदिर में तिल रखने की जगह नहीं थी। श्रद्धालुओं को काफी मशक्कत के बाद माता का दर्शन करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। दूसरी ओर पालन पीठ माता मंगला गौरी,शीतला मंदिर, दुःखहरणी बांग्ला स्थान,बागेश्वरी, चामुंडा माई, कामाख्या मंदिर, संकटा मंदिर, गायत्री मंदिर सहित कई अन्य देवी मंदिरों में श्रद्धालु माता का दर्शन कर आशीर्वाद लिया।

शहर के हरिदास चटर्जी लेने में स्थित दुर्गा बाड़ी समिति की ओर से माता दुर्गा की विशेष पूजा आराधना पूरे विधि विधान से बंगाली पद्धति से की जा रही है। पूरे घंटे घड़ियाल एवं शंख ध्वनि के साथ पूजा की गई। नवरात्र में माता रानी की दर्शन पूजन करने से उनकी कृपा भक्तों पर बनी रहती है। मां दुर्गे की महिमा अपरंपार है,जो भी भक्त सच्चे मन से मां की पूजा-अर्चना करता है।उस पर मां की कृपा बनी रहती है। संवेदनशील और अतिसंवेदनशील स्थानों पर बज्र वाहन के साथ स्टैटिक मजिस्ट्रेट और भारी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती की गई है। भीड़भाड़ वाले इलाकों में कोविड-19 को लेकर विशेष सतर्कता बरती जा रही है। शहर के केदारनाथ मार्केट में पहाड़नुमा भव्य पंडाल में मां दुर्गा की आकर्षक प्रतिमा को देखने के लिए भक्तों की लंबी कतारें देखी जा रही है। पंडाल के चारों तरफ कृत्रिम रोशनी से पूरा इलाका जगमग हो रहा है।

गया से अश्वनी कुमार की रिपोर्ट

Leave a Reply

%d bloggers like this: