चंबल तट पर उमडा आस्था का सैलाब, सैकडों श्रृद्धालुओं ने मॉं चामुण्डा के दर्शन किए

नागदा । शारदीय नवरात्रि की नवमी पर चंबल तट स्थित मॉं चामुण्डा के मंदिर पर आस्था का सैलाब गुरूवार को उमडा। हालांकि चंबल नदी के जल स्तर में वृद्धि के चलते माताजी के मंदिर पर अभी भी पानी होकर गुजर रहा है ऐसे में छोटी पुलिया से ही श्रृद्धालुओं ने मॉं चामुण्डा के दर्शन किए तथा पूजन-अर्चन कर मॉं से सुख-शांति का आशीर्वाद मांगा। चंबल तट पर नवमी से ही विसर्जन का क्रम भी आरंभ हो गया है। प्रशासनिक अधिकारियों की मौजुदगी में यहॉं प्रतिमाओं का विसर्जन भी किया गया। इस दौरान वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी एवं नपा की टीम मौजुद थी।

नवमी पर हुए धार्मिक आयोजन

शारदीय नवरात्रि की नवमी पर मॉं दुर्गा के पाण्डालों में पूजन हुआ। इसी प्रकार कई स्थानों पर कन्याओं का पूजन भी किया गया। चंबल तट स्थित मॉं चामुण्डा के मंदिर पर सुबह से ही भक्तों का तांता लगा रहा, यहॉं बडी संख्या में श्रृद्धालुओं ने मॉं चामुण्डा के दर्शन का पुण्यलाभ अर्जीत किया। नवमी के अवसर पर यहॉं विशेष रूप से प्रसादी का वितरण भी किया गया।

इसे भी पढ़े :कर्जदारो से परेशान हो कर गया था इंदौर युवक की हत्या के तार उज्जैन से जुडे़, दो हिरासत में

नो दिवसीय पर्व का हुआ समापन

नौ दिनों तक माता दुर्गा की आराधना, गरबा के बाद महानवमी के अवसर पर शहर में विभिन्न स्थानों और देवी मंदिरों में कन्या पूजन, हवन और भंडारे के कार्यक्रम हुए। घरों और सार्वजनिक पंडालों में स्थापित दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन किया जाना है इसको लेकर पुलिस प्रशासन एवं नगर पालिका द्वारा तैयारियां की गई हैं। नवरात्रि महापर्व के दौरान लोगों ने उपवास, विशेष पूजन अर्चन, गरबा आदि के माध्यम से नौ दिनों तक मॉं दुर्गा की आराधना की।

कोरोना संक्रमण के बाद यह पहला अवसर रहा जब देवी मंदिरों में बड़ी संख्या में लोगों ने पहुंचकर दर्शन पूजन किये वहीं कुछ स्थानों पर कोरोना गाइड लाइन के अनुरूप गरबों के कार्यक्रम भी हुए और सार्वजनिक मंडलों द्वारा माताजी की प्रतिमाएं भी स्थापित की थीं। सुबह से गली मोहल्लों और मंदिरों में कन्या पूजन और भोज के आयोजन शुरू हुए। शाम को हवन और पूर्णाहूति के बाद माताजी की प्रतिमाओं का विसर्जन किया जायेगा। इसके लिये पुलिस प्रशासन एवं नगर पालिका द्वारा तैयारियां की गई हैं।

चंबल तट पर मौजुद रहे वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी

माताजी की प्रतिमाओं के विसर्जन को लेकर वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी एसडीएम आशुतोष गोस्वामी, सीएसपी मनोज रत्नाकर, मण्डी थाना प्रभारी श्यामचन्द्र शर्मा के अलावा नगर पालिका के प्रशासनिक अधिकारी एवं कर्मचारीगण यहॉं पुरे समय उपस्थित रहे। अधिकारियों की देख-रेख में ही प्रतिमाओं के विसर्जन का क्रम प्रारंभ हुआ। पुलिस प्रशासन द्वारा चंबलत तट पर सीसीटीवी कैमरे भी लगाऐ गए है जिससे भी संपूर्ण क्षेत्र पर प्रशासन द्वारा नजर रखी जा रही है। आज शुक्रवार को भी प्रतिमाओं को विसर्जीत किया जावेगा। प्रतिमाओं के विसर्जन का क्रम एक-दो दिनों तक चलता हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: