प्रयागराज में शव दफनाने की परंपरा पुरानी है : मंत्री महेंद्र नाथ सिंह

Live Radio


प्रयागराज में शव दफनाने की परंपरा पुरानी है : मंत्री महेंद्र नाथ सिंह

प्रभारी मंत्री महेंद्र नाथ सिंह ने कहा कि शवों को दफनाने की परंपरा प्रयागराज में पुरानी है. जो लोग आर्थिक तंगी की वजह से दाह संस्कार नहीं कर पा रहे हैं उन्हें सरकार मदद करेगी, लेकिन उनके पास इस बात का कोई स्पष्ट जवाब नहीं था.

प्रयागराज . संगम नगरी प्रयागराज ( Prayagraj) में गंगा किनारे बड़ी संख्या में शवों को दफनाये जाने के मामले सामने आए हैं. इसके बाद नदी में कटान की वजह से कई शव गंगा के पानी को प्रदूषित कर रहे हैं, लेकिन इस मामले में स्थानीय प्रशासन के साथ यूपी सरकार उदासीन बनी हुई है. यूपी सरकार के प्रवक्ता और प्रयागराज के प्रभारी मंत्री महेंद्र नाथ सिंह ( Mahendra Nath Singh) से जब इस बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होंने भी परंपराओं की दुहाई देकर कोई भी ठोस कदम अदा उठाने में आनाकानी कर दी. प्रभारी मंत्री महेंद्र नाथ सिंह ने कहा कि शवों को दफनाने की परंपरा प्रयागराज में पुरानी है. जो लोग आर्थिक तंगी की वजह से दाह संस्कार नहीं कर पा रहे हैं उन्हें सरकार मदद करेगी, लेकिन उनके पास इस बात का कोई स्पष्ट जवाब नहीं था. वह गंगा में समाहित होने वाले शवों को दूसरी जगह शिफ्ट करने या फिर उनका दाह संस्कार करने के लिए सरकार के पास कोई योजना होने की बात पर कुछ नहीं बोले. मीडिया के लोग उनसे लगातार सवाल करते रहे, लेकिन मंत्री जी कभी परंपराओं की दुहाई देकर तो कभी सीएम योगी का नाम लेकर सीधे कोई जवाब देने से बचते नजर आए. ऐसे में समझा जा सकता है कि स्थानीय प्रशासन के साथ ही फिलहाल यूपी सरकार भी इस बारे में कुछ भी करने नहीं जा रही है. कैबिनेट मंत्री ने नदी किनारे शव न दफनाने को लेकर मीडिया से भी लोगों को जागरुक करने की अपील की है.







Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

COVID-19 Tracker