कोंडापुर अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक ने शिकायत की थी कि 500 कोविशील्ड वाले 50 बॉक्स गायब हो गए हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

Live Radio


कोंडापुर अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक ने शिकायत की थी कि 500 कोविशील्ड वाले 50 बॉक्स गायब हो गए हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

Vaccine Missing: देश में अब तक कोविड-19 (Covid-19) वैक्सीन के कुल 19 करोड़ 18 लाख 79 हजार 503 डोज लगाए जा चुके हैं. इनमें से पहले डोज की संख्या 14 करोड़ 92 लाख 1 हजार 320 है. जबकि, दूसरे डोज के मामले में यह आंकड़ा 4 लाख 26 हजार 78 हजार 183 है.

हैदराबाद. भारत के कई राज्य वैक्सीन की कमी का सामना कर रहे हैं. इसी बीच खबर है कि हैदराबाद में कोविशील्ड के 500 वायल गायब हो गए हैं. इस बात की जानकारी पुलिस ने दी है. फिलहाल मामले की जांच की जा रही है. इससे पहले मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से भी रेमडेसिविर इंजेक्शन चोरी होने की खबर आई थी. पुलिस ने जानकारी दी कि कोंडापुर अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक ने शिकायत की थी कि 500 कोविशील्ड वाले 50 बॉक्स गायब हो गए हैं. उन्होंने बताया कि स्टाफ को वैक्सीन के गायब होने की जानकारी तब लगी, जब अधीक्षक ने 19 मई को अपने एक सहकर्मी को स्टॉक की जांच करने के लिए भेजा था. अस्पताल प्रबंधन ने सीसीटीवी कैमरे में देखा है कि स्टाफ का ही एक शख्स संदिग्ध तरीके से रेफ्रिजेरेटर के आसपास घूम रहा है. भारत में टीकाकरण का क्या है हाल शुक्रवार सुबह तक के सरकारी आंकड़े बताते हैं कि देश में अब तक कोविड-19 वैक्सीन के कुल 19 करोड़ 18 लाख 79 हजार 503 डोज लगाए जा चुके हैं. इनमें से पहले डोज की संख्या 14 करोड़ 92 लाख 1 हजार 320 है. जबकि, दूसरे डोज के मामले में यह आंकड़ा 4 लाख 26 हजार 78 हजार 183 है. संभावना जताई जा रही है कि जून से वैक्सीन के आंकड़ों में सुधार हो सकता है. तेलंगाना में 55 लाख 22 हजार 361 डोज दिए जा चुके हैं.यह भी पढ़ें: बच्‍चों में बढ़ रहा COVID-19 का खतरा, कर्नाटक में 9 साल तक के 40 हजार बच्‍चे कोरोना पॉजिटिव केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने शुक्रवार को कहा कि भारत 2021 के अंत तक देश के सभी वयस्क लोगों का टीकाकरण करने की स्थिति में होगा. मंत्री ने नौ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में वैश्विक महामारी के हालात की समीक्षा बैठक में कहा, ‘भारत अगस्त और दिसंबर 2021 के बीच टीकों की 216 करोड़ खुराक खरीदेगा, जबकि इस साल जुलाई तक 51 करोड़ खुराक खरीदी जाएंगी.’

बयान में कहा गया कि हर्षवर्धन ने इस बात को रेखांकित किया कि अब छोटे शहरों में संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं और अत्यंत सतर्क रहने की आवश्यकता है. इसमें बताया गया कि हर्षवर्धन ने टीकाकरण तेज करने की आवश्यकता पर जोर दिया और केंद्र सरकार द्वारा मुहैया कराए गए टीकों की 70 प्रतिशत खुराक दूसरी खुराक के लिए आरक्षित रखने की आवश्यकता दोहराई. (भाषा इनपुट के साथ)







Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

COVID-19 Tracker