डीजीपी ने बताया कि कोविड डयूटी के दौरान प्रदेशभर में 2874 जवान कोरोना पॉजिटिव हुए हैं और 2378 जवानों ने कोरोना को मात दी है

Live Radio


डीजीपी ने बताया कि कोविड डयूटी के दौरान प्रदेशभर में 2874 जवान कोरोना पॉजिटिव हुए हैं और 2378 जवानों ने कोरोना को मात दी है

Corona Virus in Himachal: कोरोना कर्फ्यू की उल्लंघना को लेकर किए चालान से पुलिस ने अब तक करीब 60 लाख रुपये सरकार के खाते में जमा करवाए हैं. डीजीपी ने जानकारी दी कि प्रदेश में 1209 की शादियों परमिशन ली गई थी, इनमें से पुलिस ने 917 की चैकिंग की गई है. इनमें 1 एफआईआर और 24 चालान किए गए

शिमला. हिमाचल में कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) लागू है. इस दौरान कानून-व्यवस्था बनाए रखने और कोरोना नियमों के पालना करवाने के लिए हिमाचल पुलिस (Himachal Police) के जवान मुस्तैद हैं. कोरोना से हजारों पुलिस जवान संक्रमित हो गए, 5 पुलिसकर्मियों ने जान भी गंवाई है. इसके बावजूद हौसला टूटने नहीं दिया और जननता की सेवा में जुटे रहे. बिना थके दिन रात अपना फर्ज निभा रहे हैं. डीजीपी संजय कुंडू (DGP Sanjay Kundu) ने अपने जवानों की पीठ थपथपाई है. डीजीपी ने दी जानकारी शिमला में पत्रकारों के साथ बातचीत में डीजीपी ने बताया कि कोविड डयूटी के दौरान प्रदेशभर में 2874 जवान कोरोना पॉजिटिव हुए हैं और 2378 जवानों ने कोरोना को मात दी है, जबकि 488 जवान अभी भी होम आइसोलेशन में हैं. पुरुष जवानों के साथ महिला पुलिस कर्मी भी कंधे से कंधा मिलाकर अपनी ड्यूटी दे रही हैं. डीजीपी ने कहा कि जवानों का हौंसला बढ़ाने के लिए वह खुद थानों, चैक पोस्ट और बैरियर का निरीक्षण कर रहे हैं. सभी रेंज के आईजी को भी निर्देश दिए हैं कि वे भी इंटर स्टेट बैरियर का निरीक्षण करते रहें. पुलिस ऑक्सीजन और दवा बनाने वाली कंपनियों को भी सुरक्षा प्रदान कर रही है. साथ ही जीवन रक्षक दवाइंयों और सामान को एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचाने में मदद कर रही है. अपराधों में कमी आई: डीजीपीडीजीपी ने बताया कि कोरोना के इस दौर में अपराधों में कमी आई है. बीते साल आत्महत्या के मामले ज्यादा सामने आए, लेकिन इस बार कोरोना की दूसरी लहर में मामले कम हैं. सभी तरह के अपराध का ग्राफ गिर गया है. अनावश्यक रूप से गाड़ियों के चलने पर रोक है जिसके चलते सड़क हादसे भी कम हुए हैं. डीजीपी ने कहा कि कोरोना कि इस लड़ाई में पुलिस ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. कोरोना कर्फ्यू की पालना में बटालियनों से करीब 1300 और लगभग 1 हजार होम गार्ड के जवानों की भी ड्यूटी लगाई गई है. प्रदेश में पुलिसकर्मियों की संख्या 17 हजार 415 है, इनमें से 15,341 कोविड डयूटी पर तैनात हैं.  कुल 60 रिजर्व कोविड ड्यूटी पर है. प्रदेश के बड़े अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों में अतिरिक्त बटालियन की तैनाती की गई है. जवानों को फेस मास्क, सेनेटाइजर से लेकर सुरक्षा से जुड़े अन्य सामान दिए गए हैं. इसके लिए राज्य सरकार से 1 करोड़ रू की राशि प्राप्त हुई थी, जोकि खत्म हो गई है. अब और मांग की जाएगी. कोरोना चालान से कितने रुपये कमाए कोरोना कर्फ्यू की उल्लंघना को लेकर किए चालान से पुलिस ने अब तक करीब 60 लाख रुपये सरकार के खाते में जमा करवाए हैं. डीजीपी ने जानकारी दी कि प्रदेश में 1209 की शादियों परमिशन ली गई थी, इनमें से पुलिस ने 917 की चैकिंग की गई है. इनमें 1 एफआईआर और 24 चालान किए गए और 92 हजार रुपये जुर्माना वसूला गया. कई शादियां बिना परमिशन के की गई, जिनमें से 70 की चैकिंग की गई, इनमें 6 में एफआईआर दर्ज की गई और 30 हजार जुर्माना वसूला गया. यातायात नियमों की उल्लंघना पर 315 चालान हुए और चार एफआईआर की गई. जुर्माने के रूप में 2 लाख 28 हजार 100 रुपये चालान वूसला गया. वाहनों के अंदर फेस मास्क न पहनने के मामले पर 72 हजार रुपये जुर्माना और बिना मास्क घूमने पर 44 लाख 57 हजार 800 रुपये चालान वसूला गया है. मार्केट प्लेस में नियमों की उल्लंघना पर 608 चालान काटे गए, 32 एफआईआर दर्ज की गई और जुर्माने के रूप में 7 लाख 75 हजार 550 रुपये वसूले गए, जोकि सरकारी खजाने में जमा किए गए. डीजीपी ने कहा कि अवैध शराब के भी कई मामले दर्ज किए गए हैं.







Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

COVID-19 Tracker