मानसून का अनमोल उपहार है सरई बोड़ा


सरई बोड़ा सब्जी बाजार में टमाटर को पीछे छोड़ते हुए अब शीर्ष पर है। इसकी मांग और आपूर्ति के बीच गहरी खाई है, जिससे कीमतों में गिरावट की संभावना कम है।

By Manoj Kumar Tiwari

Publish Date: Thu, 04 Jul 2024 02:16:39 PM (IST)

Updated Date: Thu, 04 Jul 2024 02:16:39 PM (IST)

Advertisment 
--------------------------------------------------------------------------
क्या आप भी फोन कॉल पर ऑर्डर लेते हुए थक चुके हैं? अपने व्यापार को मैन्युअली संभालते हुए थक चुके हैं? आज के महंगाई भरे समय में आपको सस्ता स्टाफ और हेल्पर नहीं मिल रहा है। तो चिंता किस बात की?

अब आपके लिए आया है एक ऐसा समाधान जो आपके व्यापार को आसान बना सकता है।

समाधान:
अब आपके साथ एस डी एड्स एजेंसी जुडी है, जहाँ आप नवीनतम तकनीक के साथ एक साथ में काम कर सकते हैं। जैसे कि ऑनलाइन ऑर्डर प्राप्त करना, ऑनलाइन भुगतान प्राप्त करना, ऑनलाइन बिल जनरेट करना, ऑनलाइन लेबल जनरेट करना, ऑनलाइन इन्वेंट्री प्रबंधन करना, ऑनलाइन सीधे आपके नए आगमनों को सोशल मीडिया पर ऑटो पोस्ट करना, ऑनलाइन ही आपकी पूरी ब्रांडिंग करना। आपके स्टोर को ऑनलाइन करने से आपके गैर मौजूदगी के समय में भी लोग आपको आर्डर कर पाएंगे। आपका व्यापार आपके सोते समय भी रॉकेट की तरह दौड़ेगा। गूगल पर ब्रांडिंग मिलेगी, सोशल मीडिया पर ब्रांडिंग मिलेगी, और भी बहुत सारे फायदे मिलेंगे आपको! 🚀

ई-कॉमर्स प्लान:
मूल्य: 40,000 रुपये
50% छूट: 20,000 रुपये
ईएमआई भी उपलब्ध है
डाउन पेमेंट: 5,000 रुपये
10 ईएमआई में 1,500 रुपये
साथ ही विशेष गिफ्ट कूपन

अब आज ही बुकिंग कीजिए और न्यूज़ पोर्टल्स में विज्ञापन प्लेस करने के लिए आपको 10,000 रुपये का पूरा गिफ्ट कूपन दिया जा रहा है! इसे साल भर में हर महीने 10,000 रुपये के विज्ञापन की बुकिंग के लिए 10 महीने तक उपयोग कर सकते हैं।

अब तकनीकी की मदद से अपने व्यापार को नई ऊँचाइयों तक ले जाइए और अपने व्यापार को बढ़ावा दें! 🌐
अभी संपर्क करें - 📲8109913008 कॉल / व्हाट्सप्प और कॉल ☎️ 03369029420


 

मानसून का अनमोल उपहार है सरई बोड़ा
सरई बोड़ा सब्जी बाजार में
नईदुनिया न्यूज़,बिलासपुर। मानसून की पहली बारिश और उमस का मौसम सरई बोड़ा की उपज के लिए आदर्श समय होता है। मशरूम परिवार का यह अद्वितीय सदस्य हर साल जंगलों से निकलकर बाजारों में पहुंचता है। पोषक तत्वों से भरपूर और स्वादिष्ट सरई बोड़ा की मांग व कीमत हमेशा उच्च रहती है।

सरई बोड़ा सब्जी बाजार में टमाटर को पीछे छोड़ते हुए अब शीर्ष पर है। इसकी मांग और आपूर्ति के बीच गहरी खाई है, जिससे कीमतों में गिरावट की संभावना कम है। इसका प्रमुख कारण यह है कि सरई बोड़ा की खेती संभव नहीं है, यह केवल प्राकृतिक रूप से उत्पन्न होता है। सरई बोड़ा मशरूम परिवार का एक अनोखा सदस्य है, जो जमीन की सतह पर उत्पन्न होता है। साल वृक्ष की सूखी पत्तियों के नीचे पनपने वाला यह मशरूम आदिवासी क्षेत्रों की महत्वपूर्ण सब्जियों में से एक है और उनकी आजीविका का भी साधन है।

मौसम की बड़ी भूमिका

पहली मानसून की बारिश के बाद उमस का दौर शुरू होता है। इस मौसम में साल के वृक्ष एक विशेष द्रव्य छोड़ते हैं, जो सूखी पत्तियों के नीचे गिरकर फंगस का रूप लेता है। यही फंगस आगे चलकर सरई बोड़ा का रूप धारण करता है।

खेती संभव नहीं

सरई बोड़ा फंगस की एक विशेष प्रजाति है, जिसकी खेती करना संभव नहीं है। जून और जुलाई के महीने में मात्र 35 दिनों के लिए यह उपलब्ध होता है। यह फंगस जमीन के ऊपर उत्पन्न होता है और वजन में हल्का होता है।

पोषक तत्वों से भरपूर

अनुसंधान से प्रमाणित हुआ है कि सरई बोड़ा में प्रचूर मात्रा में प्रोटीन, विटामिन और खनिज तत्व पाए जाते हैं। इसमें कार्बोहाइड्रेट की भी भरपूर मात्रा होती है, जो कुपोषण और पेट की बीमारियों को दूर करने में सहायक हैं। इसके साथ ही हृदय रोगों के लिए भी यह फायदेमंद है।

वर्जन

साल वृक्ष के नीचे उत्पन्न होने वाला सरई बोड़ा एक अद्वितीय फफूंद है। इसमें प्रचुर मात्रा में पोषक तत्व होते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभकारी है। कुपोषण, दिल और पेट के रोगों के उपचार में यह मशरूम विशेष रूप से प्रभावी है।

अजीत विलियम्स

विज्ञानी (वानिकी)

बीटीसी

कालेज आफ एग्रीकल्चर एंड रिसर्च स्टेशन, बिलासपुर



Source link


Discover more from सच्चा दोस्त न्यूज़

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours

Leave a Reply