RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

भारतीय रेलवे से खफ़ा हुए कुली, बोले- ठेकेदार के अधीन काम नहीं करेंगे

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913

भारतीय रेल की तरफ से यात्रियों के लिए शुरू की गई बैग्‍स ऑन व्‍हील्‍स सुविधा से रेलवे का एक महत्‍वपूर्ण धड़ा कुली वर्ग नाराज है.

कुलियों ने इसके खिलाफ लामबंद होने का फैसला किया और बाकायदा रेलवे को पत्र लिखकर इससे जुड़ने से साफ इनकार कर दिया है.

इसे भी पढ़े : अज्ञात ट्रैक्टर चालक बालक को टक्कर मारकर भाग गया

साथ ही उन्‍होंने सख्‍त लहज़े में स्‍पष्‍ट किया है कि वह इस ठेकेदारी व्‍यवस्‍था के तहत किसी भी कॉन्‍ट्रेक्‍टर के साथ करने को कतई तैयार नहीं हैं.

ऑल इंडिया रेलवे लाल वर्दी कुली यूनियन ने इसको लेकर वेस्‍टर्न रेलवे के महाप्रबंधक को एक पत्र भी लिखा है. वेस्‍टर्न रेलवे के जोन सेक्रेटरी अंकुश आर घुगे ने बताया कि बैग ऑन व्‍हील्‍स नई नीति के कारण कुलियों की रोजी रोटी प्रभावित होने को है.

उन्‍होंने कहा कि इस सुविधा के अंतर्गत यात्री का सामान घर से स्‍टेशन और घर तक पहुंचाने की व्‍यवस्‍था ठेकेदारी व्‍यवस्‍था के तहत की गई है. वह कहते हैं कि हमें रेलवे की ओर से भर्ती किया गया है और हम शुरू से लेकर आज तक रेलवे के अधीन कार्य कर रहे हैं.

इसे भी पढ़े : आजाद भारत में पहली बार किसी महिला को होने जा रही है फांसी, तैयारी शुरू

उन्‍होंने रेलवे महाप्रबंधक को पत्र लिखकर स्‍पष्‍ट कहा है कि हम किसी भी तरह से ठेकेदार के अंतर्गत कार्य नहीं करेंगे और पूर्व की प्रकिया के अनुरूप हम जैसा पहले काम करते आए हैं, वैसे ही सीधा यात्री से संपर्क करके उसका सामान उठाएंगे.

Leave a Reply

%d bloggers like this: