RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

पोहा फैक्ट्री मे लगी आग ,मजदूरों ने बचाई जान

फायर ब्रिगेड की चार दमकलों ने करीब तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913

 उज्जैन।नागझिरी इंडस्ट्रियल एरिया में तड़के चार बजे पोहा फैक्टरी में आग लग गई। घटना के समय फैक्टरी में मजदूर काम रहे थे।

फायर ब्रिगेड की चार दमकलों ने आग पर काबू पाया। अग्निकांड में कोई जनहानि नहीं हुई। माना जा रहा है कि बॉयलर से निकली चिंगारी से आग लगी है। पुलिस मौके पर जांच कर रही है।

इसे भी पढ़े : दुनिया की पहली फ्लाइंग कार को मिली मंजूरी, 10,000 फुट की ऊंचाई तक उड़ने में है सक्षम

नागझिरी इंडस्ट्रियल एरिया में शिप्रा फूड नाम से पोहा बनाने वाली फैक्टरी है। वहां पर करीब 10 मजदूर काम कर रहे थे। तड़के करीब चार बजे फैक्टरी में रखे रॉ-मैटरियल से धुंआ निकलने लगा। जब तक मजदूर कुछ समझ पाते तब तक आग की लपटें निकलने लगीं।

आग देखते ही मजदूर भाग कर बाहर चले आए। कुछ ही क्षण में आग फैक्टरी में फैल गई। मजदूरों ने फायर स्टेशन को फोन कर आग लगने की सूचना दी। जब तक दमकल आती तब तक आग ने विकराल रूप धारण कर लिया था। फिलहाल, करीब तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका है।

अग्निकांड में किसी तरह की जनहानि नहीं हुई है। आग लगते ही वहां काम रहे मजदूरों ने भाग कर अपनी जान बचाई। आग से हुए नुकसान का आकलन किया जा रहा है।
उज्जैन में दो इंडस्ट्रियल एरिया हैं। एक मक्सीरोड और दूसरा नागझिरी में। मक्सी रोड स्थित इंडस्ट्रियल एरिया में कई बार आग लग चुकी है।

आग से काफी नुकसान भी हुआ है। इसी को देखते हुए प्रशासन ने यहां पर एक फायर स्टेशन को खोल दिया है। इससे इस एरिया में लगने वाली आग पर फौरन काबू पा लिया जाता है। मगर नागझिरी एरिया में अब तक फायर स्टेशन नहीं है। यहां आग लगने पर उसे काबू पाने में काफी समय लग जाता है। तब तक काफी नुकसान हो चुका होता है।

इसे भी पढ़े : अब टूलकिट मामले में एक और नाम आया सामने, मिला कनाडा कनेक्शन

प्रदेश की शिवराज सरकार ने एक जिला एक उत्पाद योजना के तहत उज्जैन में पोहा उद्योग को बढ़ावा देने के लिए पोहा क्लस्टर के रूप में विकसित करने की योजना तैयार की है। यहां पर पोहा बनाने वाली फैक्ट्रियों की संख्या भी काफी है। उज्जैन में बने पोहे को देश भर में पसंद किया जाता है, लेकिन नागझिरी इंडस्ट्रियल एरिया में एक भी फायर स्टेशन नहीं होने से आग लगने पर बड़ा नुकसान होता है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: