RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

बरेली बीजेपी में लेटरबाजी, एक दूसरे पर आरोप लगाने के लिए पदाधिकारी लिखवा रहे हैं पत्र—–

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913

पत्रों के आधार पर बड़े पदाधिकारी क्या कदम उठाते हैं, उसी तरह महानगर टीम वाले जवाब देंगे

बरेली, भारतीय जनता पार्टी में चल रही खींचतान लेटरवार के रूप में सामने आने लगी। महानगर के प्रमुख पदाधिकारी के खिलाफ पत्र लिखवाए गए, जिसके पीछे एक बड़े पदाधिकारी का नाम लिया जा रहा। जवाब में महानगर पदाधिकारी ने भी पक्ष में पत्र लिखवाने शुरू कर दिए। इस पूरे प्रकरण में जो आरोप लगे, वे संगठन में चर्चा की वजह बने हुए हैं। लेटरवार की चर्चा इसलिए भी ज्यादा है, क्योंकि बुधवार को क्षेत्रीय अध्यक्ष रजनीकांत माहेश्वरी शहर आ रहे हैं। उनका प्रवास तो पंचायत चुनाव की तैयारियों के लिए रखा गया है, मगर लेटरवार का मामला भी उछल सकता है।


अनुशासन को कार्यप्रणाली में शामिल करने का दावा करने वाली भाजपा में ऐसा होने के पीछे संगठनात्मक से ज्यादा व्यक्तिगत वजह बताई जा रही है। बताया जाता है कि बड़े पदाधिकारी ने यह कहते हुए पत्र लिखवाने शुरू किए कि महानगर के एक प्रमुख पदाधिकारी विचारधारा के अनुसार काम नहीं कर रहे हैं। कुछ मंडल प्रभारियों व महानगर टीम के कुछ सदस्यों ने ये पत्र लिखने शुरू किए, तो चर्चा सिविल लाइंस स्थित कार्यालय तक पहुंच गई। मामले में बातचीत कर प्रकरण सुलझाने के बजाय जवाब देने की रणनीति तय हुई।

महानगर इकाई के सदस्यों ने भी पत्र लिखने शुरू कर दिए कि बड़़े पदाधिकारी बेवजह निशाना लगा रहे हैं। फिलहाल, दोनों पक्षों की ओर से सभी पत्र एकत्र किए जा रहे हैं। देखा यह जा रहा है कि पत्रों के आधार पर बड़े पदाधिकारी क्या कदम उठाते हैं, उसी तरह महानगर टीम वाले जवाब देंगे।


महानगर वाले बोले, खास वजह है


प्रकरण के बाबत महानगर के पदाधिकारी का कहना है कि बड़े पदाधिकारी हमसे नाराज रहते हैं, यह मुझे पता है। इस नाराजगी की उनकी व्यक्तिगत वजह है। मेरे पक्ष में इकाई पदाधिकारी लिखकर देने के लिए तैयार है। मैंने सदैव पार्टी की रीति नीति के अनुसार ही कार्य किए हैं।


बड़े पदाधिकारी ने नकारा


पत्र लिखवाने की चर्चा संगठन के अधिकतर नेताओं तक पहुंच चुकी है। हालांकि बड़े पदाधिकारी ने इसे नकारा। कहा कि मैंने किसी पदाधिकारी से कोई पत्र भी नहीं लिया है। महानगर के प्रमुख पदाधिकारी के बारे में कहा कि वह अच्छा काम कर रहे। इसी में यह भी जोड़ दिया कि ऐसे पद पर रहते हुए रीति-नीति से काम करना चाहिए।

पब्लिश दिनांक- 17/02/2021

एलबी कुर्मी
ब्यूरो हेड बरेली

Leave a Reply

%d bloggers like this: