RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

श्मशान बाउंड्रीवाल के नाम पर लाखों निकालने वाले सरपंच-सचिव के खिलाफ जांच शुरू


श्मशान घाट जिसकी बाउंड्रीवाल के नाम पर लाखों रुपए का भुगतान हो गया।

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913


शाजापुर। कागजों में श्मशान की बाउंड्रीवाल निर्माण दिखाकर लाखों रुपए की हेराफेरी करने वाले सरपंच और सचिव के खिलाफ जनपद अधिकारी ने जांच टीम का गठन कर दिया है।

जांच टीम सचिव और सरपंच के कारनामों की रिपोर्ट तैयार कर वरिष्ठ कार्यालय को सौंपेगी जहां से नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। गौरतलब है कि शाजापुर जनपद के ग्राम पंचायत सांपखेड़ा स्थित श्मशान घाट की बाउंड्रीवाल निर्माण के लिए विधायक निधि से 3 लाख रुपए स्वीकृत हुए थे।

इसे भी पढ़े : चीन ने WHO को शुरुआती कोरोना केस के आंकड़े देने से किया इनकार, अमेरिका सख्त व नाराज़

स्वीकृत राशि से श्मशान की बाउंड्री की जानी थी, लेकिन सरपंच सुगनबाई ईश्वरसिंह गुर्जर और सचिव मनोहर द्वारा बिना बाउंड्री निर्माण किए फर्जी बिल के आधार पर 2 लाख 83 हजार रुपए का भुगतान करते हुए शासन को चूना लगा दिया।

सरपंच और सचिव की इस करतूत का 15 फरवरी के अंक में खुलासा किया गया, जिसके बाद वरिष्ठ अधिकारियों ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच के आदेश दिए हैं।


फर्जी बिल पर लाखों का भुगतान


उल्लेखनीय है कि सांपखेड़ा गांव में श्मशान घाट की बाउंड्रीवाल निर्माण के नाम पर सरपंच सुगनबाई ईश्वरसिंह गुर्जर और सचिव मनोहर लाखों रुपए का गबन कर गए हैं।

यही कारण है कि फर्जी बिल के आधार पर महज कागजों पर श्मशान की बाउंड्री दर्शाकर सचिव ने सरपंच के इशारे पर विभिन्न फर्मों को एक ही दिन में 2 लाख 83 हजार रुपए का भुगतान कर दिया है।

इसे भी पढ़े : गुजरात के सीएम की भाषण देते हुए तबीयत बिगड़ी

मामले में सचिव मनोहर का कहना है कि उसने स्वयं अपनी मौजूदगी में बाउंड्रीवाल के निर्माण का मटेरियल डलवाया था और निर्माण कार्य भी शुरू कराया था, लेकिन अब निर्माण कहां गायब हो गया उसे पता नही। जबकि सरपंच स्वयं को रसूखदार नेता का करीबी बताकर कार्रवाई से बचने का दम भर रहे हैं।


जांच टीम गठित
सरपंच और सचिव द्वारा श्मशान की बाउंड्री करने के नाम पर फर्जी ढंग से भुगतान किए जाने का मामला सामने आया है। मामले में जांच टीम गठित की गई। टीम से रिपोर्ट मिलने के बाद नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।


-बाबूलाल पंवार, कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत शाजापुर।

Leave a Reply

%d bloggers like this: