RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

दृश्यम फिल्म को कई बार देख 13 साल के बच्चे ने हत्या को दिया अंजाम

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913

पुणे पुलिस ने 2 फरवरी को 11 साल के एक लड़के की हत्या के सिलसिले में 13 साल के एक लड़के को गिरफ्तार किया है. पुणे के कोथ्रुड इलाके में पिछले महीने की 31 तारीख को लड़के का मृत शरीर मिला था.

पुणे पुलिस के जोन-3 की पुलिस उपायुक्त पूर्णिमा गायकवाड़ ने कहा, आरोपी लड़का नाबालिग है, हमने उसे गिरफ्तार कर लिया है. क्योंकि वह नाबालिग है इसलिए हम उसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दे सकते.

इसे भी पढ़े : पृथ्वी पर लौटते वक्त रूसी अंतरिक्ष यान में हुआ धमाका, एस्ट्रोनॉट्स ने शेयर की तस्वीरें

पाउड रोड के पास एक खुले मैदान में मृतक बच्चे का शरीर मिला था, जिसके बाद बच्चे की मां ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. 29 जनवरी की शाम में जब उसका बेटा घर नहीं लौटा, तब महिला पहली बार पुलिस के पास पहुंची थी.

इसके 2 दिन बाद 31 जनवरी को बच्चे की लाश मिली. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस जांच में खुलासा हुआ है कि आरोपी लड़के ने शातिराना तरीके से हत्या की घटना को अंजाम दिया था, जिसका तरीका दृश्यम फिल्म से काफी मिलता-जुलता था. पुलिस ने बताया कि लड़के ने इस फिल्म को डाउनलोड कर काफी बार देखा और फिर वारदात को अंजाम दिया.

मृतक बच्चे के मामा ने कहा, जिस दिन हमने पुलिस में शिकायत की थी, उसी रात को हम आरोपी लड़के के घर यह पूछने के लिए गए थे कि क्या उसे इस बारे में कुछ मालूम है. लेकिन उसके माता-पिता ने दरवाजा नहीं खोला.

इसे भी पढ़े : उत्तराखंड बाढ़ आपदा पर पर्यावरणविद रवि चोपड़ा का खुलासा- मैंने SC को किया था आगाह

उन्होंने फोन के जरिए हमसे बात की और बताया कि उन्हें इस बारे में कुछ भी मालूम नहीं है. अगले दिन ही उन्होंने घर छोड़ दिया और पुणे से दूर चले गए. पुलिस के फोन करने के बाद ही वे लोग वापस शहर लौटे. हमारे बच्चे को बुरी तरह से मारा गया है. अगर आरोपी लड़के को सजा नहीं मिलती है, तो वह इस तरह के और भी कई अपराध करेगा.

हिन्दुस्तान टाइम्स में प्रकाशित खबर के मुताबिक नाम न बताने की शर्त पर एक नाबालिग लड़के से बातचीत के बाद अधिकारियों ने कहा कि खेल के दौरान दोनों में झगड़ा हो गया था, जिसके बाद से आरोपी लड़का काफी गुस्से में था. कोथ्रुड पुलिस स्टेशन में भारतीय दंड संहिता की धारा 363 (अपहरण), 302 (हत्या) और 201 (सबूतों को मिटाना) के तहत मामला दर्ज किया गया है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: