RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

असम में PM मोदी ने दी चेतावनी, बोले- विदेश में बैठी ताकतें रच रहीं भारतीय चाय को बदनाम करने की साजिश

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज असम की धरती से उन विदेशी ताकतों को चेतावनी दी है जो चाय के साथ भारत के रिश्तों पर बुरी नजर डालने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कहा, आज देश को बदनाम करने के लिए साजिश रचने वाले इस स्तर तक पहुंच गए हैं कि भारत की चाय को भी नहीं छोड़ रहे.

कुछ दस्तावेज सामने आए हैं जिनसे खुलासा होता है कि विदेश में बैठी कुछ ताकतें चाय के साथ भारत की जो पहचान जुड़ी है उस पर हमला करने की फिराक में हैं.

इसे भी पढ़े : ग्लेशियर फटने से चमोली में भारी तबाही की आशंका

पीएम मोदी ने भारत के खिलाफ साजिश करने वालों को चेतावनी भरे लहजे में कहा, मैं असम की धरती से षड्यंत्रकारियों से कहना चाहता हूं कि ये जितने मर्जी षड्यंत्र कर लें देश इनके नापाक मंसूबों को कामयाब नहीं होने देगा. भारत की चाय पर किए जा रहे हमलों में इतनी ताकत नहीं है कि वो हमारे चाय बागान में काम करने वाले लोगों के परिश्रम का मुकाबला कर सकें.

इसके साथ ही पीएम मोदी ने प्रदेश की जनता से वादा किया कि असम में एक मेडिकल कॉलेज की शुरुआत स्थानीय भाषा में की जाएगी. उन्होंने कहा, मेरा सपना है कि हर राज्य में कम से कम एक मेडिकल कॉलेज मातृभाषा में पढ़ाना शुरू करें.

इसे भी पढ़े : पत्नी प्रेमी के साथ भागी तो पति ने जहर खाकर आत्महत्या की

जब असम में नई सरकार बनेगी मैं असम के लोगों की तरफ से वादा करता हूं कि असम में हम एक मेडिकल कॉलेज स्थानीय भाषा में शुरू करेंगे. उन्होंने कहा, गुवाहाटी में एम्स का काम तेजी से आगे बढ़ रहा है.

पिछली सरकारें क्यों नहीं समझ पाईं की गुवाहाटी में एम्स होगा तो यहां के लोगों को कितना फायदा होगा. सरकार असम के विकास के लिए पूरी निष्ठा से काम कर रही है. असम में आयुष्मान भारत योजना का लाभ करीब सवा करोड़ लोगों को मिल रहा है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: