RNI N. MPHIN/2013/52360; प्रधान संपादक - विनायक अशोक लुनिया

बजट देश के लिए आर्थिक सुधारों में प्रगति दायक होगाःडॉ नगमा।

सच्चा दोस्त न्यूज़ को आप हिंदी के अतिरिक्त अब इंग्लिश, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, गुजरती एवं पंजाबी भाषाओँ में भी खबर पढ़ सकते है अन्य भाषाओँ में खबर पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें Sachcha Dost News https://sachchadost.in/english सच्चा दोस्त बातम्या https://sachchadost.in/marathi/ సచ్చా దోస్త్ వార్తలు https://sachchadost.in/telugu/ સચ્ચા દોસ્ત સમાચાર https://sachchadost.in/gujarati/ সাচ্চা দোস্ত নিউজ https://sachchadost.in/bangla/ ਸੱਚਾ ਦੋਸਤ ਨ੍ਯੂਸ https://sachchadost.in/punjabi/

दैनिक राशिफल दिनांक 13 जुलाई (बुधवार) 2022 https://sachchadost.in/archives/93913

शिक्षा, स्वास्थ्य,कृषि एवं महिलाओं के सशक्तिकरण पर विशेष ख्याल रखा गया

गया। जीबीएम कॉलेज के इकोनॉमिक्स डिपार्टमेंट की असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ नगमा शादाब ने बजट के कई प्रावधानों को मुक्त कंठ से सराहना करते हुए कहा की बजट में जान और जहान दोनों पर फोकस किया गया है। जिसमें शिक्षा, स्वास्थ्य,कृषि एवं महिलाओं के सशक्तिकरण पर विशेष ख्याल रखा गया है।

बुनियादी ढांचे पर जोर से विकास को बढ़ावा मिलेगा।वैश्विक महामारी कोरोना से जूझने के बाद जिस तरह से देश की अर्थव्यवस्था काफी पीछे चली गई थी उस हिसाब से बजट संतुलित है।कोरोना काल में अर्थव्यवस्था चरमरा गई थी।इसे ध्यान में रखते हुए बजट से अर्थव्यवस्था सुधरेगी।टैक्स ऑडिट को सरलीकरण किये जाने से जीएसटी कर प्रणाली के समयवद्ध अनुपात को बढ़ावा मिलेगा। 75 वर्ष से अधिक उम्र वाले लोगों से आयकर नहीं लेना बुजुर्गों के लिए एक राहत भरी खबर है।

बजट में महिलाओं को सभी श्रेणी के तहत काम करने की अनुमति दिए जाना,न्यूट्रिशन मिशन में इजाफा,महिलाओं तक पोषक आहार पहुंचाना, सैनिक स्कूल खोले जाना जैसे कार्य सराहनीय है। उन्होंने कहा कि बेहतर स्वास्थ्य, शिक्षा के उत्तरोत्तर विकास के साथ महिलाओं के आर्थिक स्वावलंबन बनाने की दिशा में बजट देशवासियों के लिए राहत भरी है हालांकि बजट में बिहार को कुछ खास नहीं मिला है, लेकिन फिर भी बजट देश के लिए आर्थिक सुधारों में प्रगति दायक होगा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: