युवराज सिंह बोले-टीम इंडिया का कप्तान बनने को तैयार था लेकिन धोनी को कमान सौंप दी गई


युवराज सिंह को 2007 टी20 वर्ल्ड कप में कप्तान बनने की आस थी (PC-AFP)

साल 2007 टी20 वर्ल्ड कप में एमएस धोनी को टीम इंडिया की कमान सौंपी गई थी. युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने बताया कि वो कप्तान बनने के लिए तैयार थे लेकिन सेलेक्टर्स ने धोनी (MS Dhoni) को कमान सौंप दी

नई दिल्ली. युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने टीम इंडिया को कई मैच अपने दम पर जिताए. उन्होंने टीम इंडिया को 2007 में टी20 वर्ल्ड चैंपियन बनाया और उसके बाद वर्ल्ड कप 2011 में भी उन्होंने टीम को खिताब दिलाया लेकिन ये विस्फोटक खिलाड़ी कभी भारत का कप्तान नहीं बन सका. अब युवराज सिंह ने खेल को अलविदा कह दिया है और रिटायरमेंट के दो साल बाद उन्होंने अपने दिल की बात कहते हुए बताया कि वो टीम इंडिया की कप्तानी करना चाहते थे लेकिन सेलेक्टर्स ने धोनी (MS Dhoni) को कमान सौंप दी.

’22 Yarns’ पॉडकास्ट पर युवराज सिंह ने कहा कि जब 2007 वर्ल्ड कप के बाद राहुल द्रविड़ ने कप्तानी छोड़ी थी तो उन्हें लगा था कि टी20 वर्ल्ड कप के लिए उन्हें कप्तान बनाया जाएगा लेकिन ऐसा हुआ नहीं. युवराज सिंह ने कहा, ‘ 2007 में भारत ने 50 ओवर का वर्ल्ड कप गंवा दिया था. उसके बाद इंग्लैंड का दौरा था और फिर टीम को साउथ अफ्रीका और आयरलैंड का दौरा करना था. टीम को 4 महीने तक विदेश में रहना था. इसलिए सीनियर खिलाड़ियों ने आराम के बारे में सोचा और किसी ने टी20 वर्ल्ड कप को गंभीरता से नहीं लिया. मुझे लगा कि टी20 वर्ल्ड कप में मुझे कप्तान बनाया जाएगा लेकिन फिर धोनी के नाम की घोषणा हो गई.’

जहीर खान को हुआ टी20 वर्ल्ड कप नहीं खेलने का अफसोस

युवराज सिंह ने बताया कि कप्तानी नहीं मिलने की वजह से उनके और धोनी के बीच कभी कोई दिक्कत नहीं हुई. युवराज सिंह ने कहा, ‘जो भी आपका कप्तान बनता है आपको उसका समर्थन करना होता है. मैं टीम गेम में भरोसा रखता हूं. खैर गांगुली, द्रविड़, सचिन जैसे सीनियर खिलाड़ियों ने आराम का फैसला किया. जहीर खान ने भी ऐसा ही किया. टी20 वर्ल्ड कप के पहले मैच में क्रिस गेल ने 50-55 गेंद में तूफानी शतक लगाया तो उसके बाद जहीर खान ने मुझे फोन करते हुए कहा-अच्छा हुआ मैं ये टूर्नामेंट नहीं खेल रहा हूं. और जब हम चैंपियन बन गए तो उन्होंने कहा-मुझे भी ये टूर्नामेंट खेलना चाहिए था.’बता दें टी20 वर्ल्ड कप में युवराज सिंह ने 6 गेंद पर 6 छक्के लगाने का कारनामा किया था. बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने इंग्लैंड के खिलाफ स्टुअर्ट ब्रॉड की 6 गेंदों पर 6 छक्के जड़े थे. आखिर में टीम इंडिया ने फाइनल में पाकिस्तान को हराकर टी20 वर्ल्ड कप अपने नाम किया था.









Source link

Leave a Reply

COVID-19 Tracker
%d bloggers like this: