Bihar Weather Alert: अगले 48 घंटे में बिहार पहुंचेगा मानसून, इन जिलों में भारी वज्रपात की आशंका, चेतावनी जारी


बिहार के औरंगाबाद, गोपालगंज, नवादा समेत 8 जिलों में भारी बारिश व वज्रपात की आशंका.

मौसम विभाग के मुताबिक बिहार के वैसे ज़िले जो झारखंड से सटते हैं, उन जिलों में भारी बारिश और तीव्र वज्रपात की आशंका है. इन जिलों के लोगों के लिए मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी करते हुए सावधानी बरतने को कहा है.

पटना. बिहार में अगले 48 घंटो में मानसून प्रवेश करने की सम्भावना जताई जा रही है. मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिम बंगाल से होते हुए पूर्णिया के रास्ते मानसून बिहार में प्रवेश करेगा. सूबे में मानसून प्रवेश करने की संभावना 15 जून तक बताई गई थी पर मौसम के रुख के मुताबिक मौसम विभाग का कहना है कि अगले 48 घंटों में ही मानसून बिहार प्रवेश कर सकता है. बता दें कि ऐसा पिछले 6 सालों में पहली बार होगा जब समय से पहले मानसून बिहार में प्रवेश करेगा. इससे पहले 2017 में 13 जून को बिहार में मानसून ने प्रवेश किया था.

इन जिलों में भारी बारिश और वज्रपात

मौसम विभाग के मुताबिक बिहार के वैसे ज़िले जो झारखंड से सटते हैं, उन जिलों में भारी बारिश और तीव्र वज्रपात की आशंका है. मौसम विभाग के अनुसार औरंगाबाद, रोहतास, जमुई, बांका, नवादा, पश्चिमी चम्पारण, पूर्वी चंपारण जिलो में तीव्र वज्रपात हो सकता है. गया, शेखपुरा, नालंदा में भी भारी बारिश व वज्रपात की चेतावनी जारी की है. इन जिलों के लोगों के लिए मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी करते हुए सावधानी बरतने को कहा है. अगले दो दिन लोग में जब भी बारिश हो वैसे समय में खुले में जाने और तालाब और नदी में नहाने से बचें.

मानसून पूर्व बारिश से नदियों में उफानमानसून शुरू होने से ठीक पहले पिछले 24 घंटो में बिहार में हुए बारिश के कारण नदियों का जलस्तर काफी बढ़ गया है. सुपौल, चनपटिया, भोरे, फारबिसगंज में नदियों का जलस्तर काफी बढ़ गया है. आने वाले दिनों में बिहार में भारी बारिश की आशंका को देखते हुए नदियों में नाव परिचालन पर रोक लगाने का निर्देश दिया गया है. लोगों से अपील की गई है कि लोग घरों में ही रहें और वज्रपात से बचें.









Source link

Leave a Reply

COVID-19 Tracker
%d bloggers like this: