दोहरे शतक पर 7 और सेंचुरी पर मिलते हैं 5 लाख: पूर्व भारतीय क्रिकेटर का टीम इंडिया को लेकर खुलासा


नई दिल्ली. टीम इंडिया में शामिल खिलाड़ियों को केवल कॉन्ट्रैक्ट के तहत करोड़ों रुपए ही नहीं मिलते, बल्कि अच्छे प्रदर्शन की वजह से उन्हें बोनस भी मिलता है, वो भी लाखों में. पूर्व भारतीय ओपनर आकाश चोपड़ा ने इसका खुलासा किया है. आकाश ने अपने यूट्यूब चैनल पर दुनिया के सबसे ज्यादा सैलरी पाने वाले क्रिकेट खिलाड़ियों को लेकर एक वीडियो शेयर किया था. इसी में उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों को लेकर दिलचस्प जानकारी साझा की.

आकाश ने बताया कि अगर कोई बल्लेबाज टेस्ट में दोहरा शतक लगाता है, तो उसे अलग से 7 लाख रुपए मिलते हैं, जबकि अगर वो शतक ठोकता है, तो उसे बतौर बोनस पांच लाख रुपए मिलते हैं. ऐसा नहीं है कि सिर्फ बल्लेबाजों को ही बोनस मिलता है. पांच विकेट लेने वाले गेंदबाज को भी इनाम के तौर पर पांच लाख रुपए मिलते हैं. ये मैच फीस का हिस्सा नहीं होता है.

आकाश की बात पर अगर यकीन करें, तो इसी साल इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई टेस्ट में शतक लगाने के साथ 8 विकेट लेने वाले रविचंद्नन अश्विन को सिर्फ एक टेस्ट के ही 25 लाख रुपए मिले होंगे. क्योंकि एक टेस्ट खेलने की फीस 15 लाख रुपए है. वहीं, 10 लाख रुपए उन्हें मैच में शतक लगाने और पांच से ज्यादा विकेट लेने के लिए बोनस के तौर पर मिले होंगे. यह नहीं भूलना चाहिए कि बीसीसीआई ऐतिहासिक जीत के बाद नकद बोनस भी देता है. इस साल की शुरुआत में बोर्ड ने बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी जीतने के बाद टीम इंडिया को 5 करोड़ रुपये का बोनस दिया था.

ए-प्लस ग्रेड में शामिल खिलाड़ियों को सालाना 7 करोड़ रु. बीसीसीआई के सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट के मुताबिक, ए प्लस ग्रेड में शामिल खिलाड़ियों को सालाना 7 करोड़ रुपए मिलते हैं. ए-ग्रेड में शामिल क्रिकेटर को 5, जबकि जो खिलाड़ी बी ग्रेड में हैं, उन्हें सालाना पांच

करोड़ रुपए मिलते हैं. सी-ग्रेड में शामिल भारतीय खिलाड़ियों को साल के एक करोड़ रुपए मिलते हैं. ये रकम फिक्स रहती है. जो हर साल खिलाड़ियों को बोर्ड की तरफ से मिलती है, फिर चाहें साल में कितने भी मैच खेलें.

फारुख इंजीनियर बोले- इंग्लैंड के खिलाड़ी IPL की वजह से हमारे तलवे चाटते हैं

भारतीय खिलाड़ियों को एक टेस्ट के 15 लाख रु. मिलते हैं

वहीं, एक भारतीय खिलाड़ी को टेस्ट मैच खेलने पर 15 लाख रुपए बतौर फीस मिलते हैं. वनडे में ये राशि 6 लाख और टी20 में 3 लाख रुपए होती है. जो खिलाड़ी टेस्ट टीम में तो शामिल होते हैं, लेकिन प्लेइंग-11 का हिस्सा नहीं बनते हैं उन्हें मैच फीस का पचास फीसदी मिलता है. यानी टेस्ट टीम में होने पर एक मैच के 7.5 लाख रुपए मिलते हैं.

एंडरसन ने ब्रॉड को कहा था ‘लेस्बियन’, इंग्लैंड के कई और खिलाड़ियों ने किए विवादित ट्वीट

बीसीसीआई ने 28 खिलाड़ियों को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में शामिल किया

बीसीसीआई ने इसी साल अप्रैल में सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट जारी किया था. इस कॉन्ट्रैक्ट में तीन नए चहरों के साथ कुल 28 खिलाड़ियों को शामिल किया गया है. ग्रेड- ए प्लस में कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह शामिल हैं. ग्रेड-ए में रविचंद्रन अश्विन, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, शिखर धवन, केएल राहुल, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा, ऋषभ पंत और हार्दिक पंड्या शामिल हैं. ग्रेड बी में ऋद्धिमान साहा, उमेश यादव, शार्दुल ठाकुर और मयंक अग्रवाल के नाम हैं. ग्रेड सी में 9 खिलाड़ी हैं.





Source link

Leave a Reply

COVID-19 Tracker
%d bloggers like this: