क्या आपको है ‘कच्चे चावल’ खाने की आदत, हो जाएं सावधान नहीं तो हो सकता है भारी नुकसान


Side Effects Of Raw Rice: रोटी की तुलना में चावल (Rice) खाना काफी लोगों को पसंद होता है. खासकर तटीय इलाकों में रहने वाले लोग चावल खाना ज्यादा पसंद करते हैं. चावल को आप अपनी डाइट में कई तरह से इस्तेमाल करते हैं जिसमें दाल-चावल, खिचड़ी और पुलाव शामिल है. आपको बता दें कि सफेद चावल की जगह ब्राउन राइस (Brown Rice) खाना सेहत के लिए ज्यादा फायदेमंद माना जाता है. चावल विभिन्न प्रकार के विटामिन और मिनरल्स का खजाना है. इसमें नियासिन, विटामिन डी, कैल्श‍ियम, फाइबर, आयरन, थायमीन और राइबोफ्लेविन पर्याप्त मात्रा में मौजूद होता है. वहीं ब्राउन राइस के अंदर भरपूर मात्रा में प्रोटीन, फाइबर और विटामिंस पाए जाते हैं जो शरीर को कई प्रकार की बीमारियों से बचाते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कई लोगों को कच्चे चावल खाने की आदत होती है. कच्चे चावल का सेवन सेहत के लिए हानिकारक साबित हो सकता है. इसे खाने से शरीर को गंभीर नुकसान हो सकता है. आइए आपको बताते हैं कच्चा चावल खाने से कौन सी परेशानियां हो सकती हैं.

कच्चे चावल खाने के नुकसान

गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल व पाचन संबंधी समस्या

कच्चे चावलों में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो पाचन संबंधित समस्याओं का कारण बनते हैं. इसके अंदर लेक्टिन नामक प्रोटीन पाया जाता है. यह प्राकृतिक कीटनाशक और एंटीन्यूट्रिएंट्स के रूप में भी काम करता है. कच्चे चावल खाने से पाचन तंत्र संबंधित समस्याएं हो सकती हैं.

इसे भी पढ़ेंः गर्मियों में रोज सुबह पिएं एक गिलास नींबू पानी, पेट की हर समस्या होगी दूर

पथरी की समस्या

पथरी के मरीजों के लिए कच्चे चावल खाना नुकसानदायक हो सकता है. दरअसल जो लोग अधिक मात्रा में कच्चे चावल का सेवन करते हैं उन लोगों में पथरी का खतरा बढ़ सकता है.

फूड पॉइजनिंग की परेशानी

कच्चे चावल खाने से फूड पॉइजनिंग की समस्या हो सकती है. कच्चे चावल में बैसिलस सिरस नामक बैक्टीरिया मौजूद होता हैं जो शरीर में फूड प्वाइजनिंग की समस्या खड़ी कर सकता है. इसलिए कच्चे चावल के सेवन से बचें.

इसे भी पढ़ेंः इस जूस को पीते ही बढ़ेगा इम्यूनिटी पावर, वायरल बीमारियों से रहेंगे दूर

एनर्जी कम होना

कच्चे चावल के सेवन से व्यक्ति को आलस आना शुरू हो जाता है. कच्चे चावलों का सेवन करने से शारीरिक थकान होती है जो बॉडी की एनर्जी को कम कर देती है. थकावट की वजह से कई प्रकार की बीमारियां भी हो सकती हैं.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)



Source link

Leave a Reply

COVID-19 Tracker
%d bloggers like this: