आनंद मोहन पांडे और अंजली भारती के भोजपुरी गाने ‘मां का दर्द’ को मिले लाखों व्यूज, देखें Video


भोजपुरी सिंगर अंजली भारती का ये गाना यूट्यूब पर काफी अच्छा परफॉर्म कर रहा है. गाने को लाखों व्यूज मिल चुके हैं.

भोजपुरी (Bhojpuri) सिंगर अंजली भारती (Anjali Bharti) का भोजपुरी गाना (Bhojpuri Song) ‘मां का दर्द’ (Maa Ka Dard) को बहुत अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है. गाने को लाखों व्यूज मिल चुके हैं. आप भी देखिए ये इमोशनल वीडियो.

Video | माँ का दर्द | Pyar Mai Ke | Anjali Bharti | Aanand Mohan | New Bhojpuri Songs 2021 | सामाजिक सरोकारों वाले के गाने एकसूत्र में पीरो कर एक प्लेटफार्म पर लेन वाली म्यूजिक कम्पनी विजय लक्ष्मी म्यूजिक अब माँ-बेटे के दिल को छू लेने वाला गाना ‘माँ का दर्द’ (Maa Ka Dard) लेकर आई है, जिसे दर्शकों ने खूब पसंद किया है. लोग इस गाने की सराहना भी कर रहे हैं, क्योंकि यह गाना पारिवारिक मूल्यों की अभिव्यक्ति है, जो सीधे लोगों के दिमाग पर असर डालती है.

गाने का थीम एक बूढ़ी माँ और उसके बेटे के बीच के रिश्ते की है, जब उसकी शादी हो जाती है. उसके बाद उस माँ की अहमियत पत्नी की सामने नगण्य हो जाता है. यह आज लगभग ज्यादातर घरों की कहानी हो चली है. लेकिन एक माँ फिर भी माँ ही रहती है और उसके अपने औलाद के लिए ममत्व कम कभी नहीं होता है. इसी कहानी को विजय लक्ष्मी म्यूजिक ने इस गाने में संजोया है. जिसे अब लोग बेहद पसंद भी कर रहे है.

Youtube Video

आपको बता दें कि गाना ‘माँ का दर्द’ को अंजली भारती ने गाया है. लिरिक्स तरुण पांडेय का है. म्यूजिक लार्ड जी ने दिया है. डायरेक्टर और डीओपी रंजीत कुमार सिंह हैं. पीआरओ रंजन सिन्हा हैं. गाने में विडियो में आनंद मोहन पांडेय (Anand Mohan Pandey), निशा तिवारी, राजेश मिश्रा और राज नंदनी प्रमुख भूमिकाओं में नजर आ रही हैं. कुछ दिनों पहले इसी यूट्यूब चैनल से बेहतरीन विवाह गीत (Vivah Geet) ‘पगड़ी के लाज’ (Pagdi Ke Laaj) रिलीज किया गया है. भोजपुरी गीत (Bhojpuri Song) ‘पगड़ी के लाज’ उस बाप और बेटी के बीच के मार्मिक संवाद की अभिव्यक्ति है, जिसके दरवाजे पर बारात खड़ी होती है और बेटी अपनी पसंद की शादी नहीं कर पाने की वजह से जहर खाने को कमरे में बंद हो जाती है. इस विवाह गीत की शानदार प्रस्तुति दर्शकों और श्रोताओं को बेहद पसंद आ रही है.









Source link

Leave a Reply

COVID-19 Tracker
%d bloggers like this: